बीज से बाजार तक इनोवेशन के अपार अवसर, छात्र दें अपना योगदान : राष्ट्रपति
Samastipur News in Hindi

बीज से बाजार तक इनोवेशन के अपार अवसर, छात्र दें अपना योगदान : राष्ट्रपति
पटना एयरपोर्ट पर राष्ट्रपति का स्वागत करते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गोल्ड मेडल प्राप्त करने वाले छात्रों को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि ये बड़े गर्व का विषय है कि इन 33 विजेताओं में से 25 हमारी बेटियां है. ये अवसर हमें और समाज को आश्वस्त करती हैं. देश को ऐसी बेटियों पर नाज है.

  • Share this:
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने समस्तीपुर के राजेन्द्र कृषि विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह में हिस्सा लिया. इस अवसर पर उन्होंने 33 मेधावी छात्र-छात्राओं को गोल्ड मेडल प्रदान किए. अपने संबोधन में राष्ट्रपति ने भारत के किसानों के योगदान की सराहना की. उन्होंने कहा कि हमारे देश के किसानों ने विश्व की दूसरी बड़ी आबादी वाले देश को खाद्य सुरक्षा प्रदान की है. उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में विकास की अपार संभावनाएं हैं और इसमें इनोवेशन्स के अपार अवसर हैं. राष्ट्रपति ने कृषि क्षेत्र से जुड़े छात्र-छात्राओं को आगे आने का आह्वान किया.

इससे पहले राष्ट्रपति ने विश्वविद्यालय के गोल्ड मेडल प्राप्त करने वाले छात्रों को शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि ये बड़े गर्व का विषय है कि इन 33 विजेताओं में से 25 हमारी बेटियां है. राष्ट्रपति ने कहा कि ये अवसर हमें और समाज और आश्वस्त करती हैं. देश को ऐसी बेटियों पर नाज है.

ये भी पढ़ें- मुश्किलों में फंसी बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन, बिहार के इस थाने में दर्ज हुआ FIR



उन्होंने कहा कि हमारे देश की आबादी को देखते हुए खेती लायक जमीन और जल संसाधन की कमी है इसके लिए निरंतर इनोवेशन की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि बीज से बाजार तक की प्रक्रिया में इनोवेशन के अपार अवसर हैं, जिसमें कृषि क्षेत्र के छात्र अपना योगदान दे सकते हैं.



राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे अनेक राज्यों के ऐसे उत्साही और सफल लोगों से मिलने का अवसर मिला है जिन्होंने परम्परा से हटकर कुछ नया करने का जोखिम उठाया. उन्होंने कहा कि ऑर्गेनिक खेती में भी काफी उन्नति हुई है और इसकी मांग काफी है. उन्होंने कहा कि स्वरोजगार शुरू करने के बारे में भी सोचना होगा. मुद्रा योजना जैसी स्कीम हैं जहां से कृषि क्षेत्र में निवेश के लिए आगे आया जा सकता है.

राष्ट्रपति ने बताया कि खेती-किसानी को लाभकारी और आकर्षक बनाने के लिए कार्य किए जा रहे हैं कृषि क्षेत्र को मजबूत बनाने के लिए प्रयास जारी है. उन्होंने विशेष रूप से- ई नाम, सॉयल हेल्थ कार्ड, फसल बीमा योजना और किसान सम्पदा जैसी योजनाओं का जिक्र किया.

राष्ट्रपति ने ग्लोबल वार्मिंग को दुनिया के लिए एक बड़ी चुनौती बताया और कहा कि इस पर नियंत्रण बेहद आवश्यक है. उन्होंने भारत और फ्रांस की अगुआई में इंटरनेशनल सोलर अलायंस का जिक्र किया और कहा कि ग्लोबल वार्मिंग को देखते हुए ये बड़ी पहल है. इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रामनाथ कोविंद का पटना एयरपोर्ट पर स्वागत किया.

ये भी पढ़ें- 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading