लाइव टीवी

बिहार उपचुनाव: घर में रखा था पिता का शव और पोलिंग बूथ पर पहुंचकर बेटे ने डाला वोट

News18 Bihar
Updated: October 21, 2019, 8:16 PM IST
बिहार उपचुनाव: घर में रखा था पिता का शव और पोलिंग बूथ पर पहुंचकर बेटे ने डाला वोट
वोट डालने पहुंचा मृतक का परिवार

मृतक राजेन्द्र झा समस्तीपुर लोकसभा उपचुनाव ((Samastipur Lok Sabha by election) को लेकर काफी उत्साहित थे और मतदान करने की तैयारी कर रहे थे. उन्हें इंतजार था 21 अक्टूबर का कि वह इस उपचुनाव में मतदान करेंगे.

  • Share this:
समस्तीपुर. बिहार (Bihar) के समस्तीपुर सुरक्षित लोकसभा सीट (Samastipur Lok Sabha Seat) पर सोमवार को वोट (Voting) डाले गए. हालांकि इस उपचुनाव (By-election) में वोटिंग का प्रतिशत काफी कम देखा जा रहा है. बावजूद इसके, समस्तीपुर (Samastipur) से एक ऐसी तस्वीर सामने आई, जो लोगों को मतदान करने की सीख दे रही है. ये उन मतदाताओं के लिए एक उदाहरण है, जो अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं करते हैं. दरअसल समस्तीपुर के गरुआर गांव के बूथ संख्या 144 पर ऐसे मतदाता पहुंचे थे, जिनके परिवार के एक सदस्य की मौत हो गई थी. घर के दरवाजे पर मृतक का शव रखा था लेकिन लोकतंत्र के इस पर्व के महत्व को समझते हुए उन लोगों ने पहले मतदान करना उचित समझा. उसके बाद मृतक के शव का दाह संस्कार किया जाएगा.

दरअसल समस्तीपुर सदर प्रखंड के गरवारा गांव में रेलवे से ड्राइवर के पद से अवकाश प्राप्त व्यक्ति राजेन्द्र झा की मौत सोमवार सुबह 10:00 बजे के करीब हो गई. कल तक मृतक राजेन्द्र झा समस्तीपुर लोकसभा चुनाव को लेकर काफी उत्साहित थे और मतदान करने की तैयारी कर रहे थे. उन्हें इंतजार था 21 अक्टूबर का कि वह इस उपचुनाव में मतदान करेंगे. लेकिन कुदरत को कुछ और ही मंजूर था. उनका वह सपना साकार नहीं हो पाया. लोकतंत्र के इस पर्व में उनके परिवार के सभी सदस्य शोक के बावजूद मतदान केंद्र पर पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

लोकतंत्र तभी सफल होगा जब हर व्यक्ति वोट डालेगा
वहीं गांव के कुछ उत्साही युवा प्रभात कुमार झा और उनके साथियों ने भी दुख की इस घड़ी में मृतक के परिवार का उत्साह बढ़ाया. इस मौके पर न्यूज़18 से बातचीत करते हुए मृतक राजेन्द्र झा के पुत्र रंजन कुमार ने बताया कि लोकतंत्र तभी सफल हो पाएगा जब हर एक व्यक्ति मतदान केंद्र पर पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग करे.

पिता की मौत होने के बाद भी वोट डालने पहुंचा बेटा
उन्होंने कहा कि पिताजी की मृत्यु हो जाने के बावजूद वह अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करने मतदान केंद्र पर पहुंचे. वहां लोगों से अपील भी  की, जो लोग अब तक मतदान नहीं किए हैं वह मतदान केंद्र पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयोग करें. गरुआरा गांव की मतदान केंद्र संख्या 144 कि यह घटनाक्ररम पूरे इलाके में चर्चा का विषय बना हुआ है.

(रिपोर्ट- मुकेश कुमार)
Loading...

यह भी पढ़ें-

तालाब से मछली चुराने के लिए चोरों ने की थी युवक की हत्या

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए समस्तीपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 21, 2019, 7:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...