लाइव टीवी

समस्तीपुर छठ हादसा- मृतकों की संख्या बढ़ कर 3 हुई, अब 4-4 लाख के मुआवजे का ऐलान

News18 Bihar
Updated: November 3, 2019, 11:23 AM IST
समस्तीपुर छठ हादसा- मृतकों की संख्या बढ़ कर 3 हुई, अब 4-4 लाख के मुआवजे का ऐलान
समस्तीपुर में हुए हादसे के बाद घटनास्थल पर जमा भीड़.

हादसे के बाद तीन अन्य लोगों की भी हालत गंभीर बनी हुई है. सभी को सदर अस्पताल (Hospital) में भर्ती करवाया गया है.

  • Share this:
समस्तीपुर. बिहार में सूर्योपासना के महापर्व छठ (Chhath) की खुशियां उस वक्त मातम में तब्दील हो गईं जब समस्तीपुर (Samastipur) में छठ घाट के पास बने काली मंदिर (Temple) की दीवार अचानक भगवान भास्कर को अर्घ्य दे रहे व्रतियों के ऊपर गिर गई. इस हादसे के बाद चारों ओर चीख और कोहराम मच गया. हादसे में अब तक मृतकों की संख्या तीन हो गई है. पहले हादसे में दो महिलाओं की मौत की पुष्टि हुई थी लेकिन अब एक पुरुष की भी मौत हो गई है. वहीं अब प्रशासन ने पीड़ित परिजन को मुआवजा देने का ऐलान भी किया है.

ग्रामीणों की मदद से शुरू हुआ बचाव कार्य
मामला हसनपुर थाना इलाके के बड़गांव का है. घटना के तुरंत बाद ग्रामीणों द्वारा राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया और अधिकारियों की घटना की जानकारी दी गई. इस दौरान अब तक तीन लोगों की मौत हुई है. मृतकों में छठ व्रती दो महिलाओं समेत एक पुरुष भी शामिल है. वहीं तीन लोग इस हादसे में घायल हो गए हैं जिन्हें इलाज के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था, जहां से बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल रेफर किया गया है.

चार-चार लाख का मुआवजा

घायल हुए लोगों में रीता देवी 40 वर्ष , माया देवी, और रोशन कुमार उम्र 25 वर्ष शामिल है. सभी घायलों का इलाज हसनपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में किया गया जहां से बेहतर इलाज के लिए सभी को सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. जिला प्रशासन द्वारा हादसे में मारे गए लोगों के आश्रितों को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने की है.

इनपुट- मुकेश कुमार

ये भी पढ़ें- CM आवास में भी हुआ छठ महापर्व, नीतीश कुमार ने भगवान भास्कर को दिया अर्घ्य
Loading...

ये भी पढ़ें- छठ महापर्व पर भी बरपा अपराधियों का कहर, तीन को मारी गोली, एक की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए समस्तीपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 11:02 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...