लोकसभा उपचुनाव: बिहार की समस्तीपुर सीट पर उतर सकते हैं ये दिग्गज!

News18 Bihar
Updated: September 7, 2019, 5:36 PM IST
लोकसभा उपचुनाव: बिहार की समस्तीपुर सीट पर उतर सकते हैं ये दिग्गज!
समस्तीपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव को लेकर उम्मीदवारों के नाम पर चर्चा शुरू हो गई है.

महागठबंधन में इस सीट को लेकर अबतक कुछ साफ स्थिति नहीं दिख रही है. लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की तरफ से इस सीट पर कांग्रेस के अशोक राम चुनाव मैदान में थे.

  • Share this:
पटना. बिहार में विधानसभा के चुनाव (Assembly Election ) में अभी एक साल का वक्त है, लेकिन, उसके पहले उपचुनाव को लेकर सरगर्मी तेज हो गई है. पांच जगहों पर विधानसभा का उपचुनाव (Assembly Byelection) भी होना है. साथ ही समस्तीपुर में लोकसभा का उपचुनाव (Lok sabha Bylection) भी होना है. ऐसे में कयासों का बाजार गर्म है कि यहां से कौन-कौन उम्मीदवार होंगे.


रामचंद्र पासवान के निधन से खाली हुई सीट

दरअसल, लोकसभा चुनाव में समस्तीपुर की सुरक्षित सीट से एलजेपी की तरफ से रामचंद्र पासवान की जीत हुई थी. रामचंद्र पासवान केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के छोटे भाई भी थे, जिनका दिल का दौरा पड़ने के बाद निधन हो गया था. वहां उपचुनाव होना है.

एलजेपी से प्रिंस राज को उतारने की तैयारी!

पहले एनडीए की बात करें तो यह सीट पिछले लोकसभा चुनाव में एलजेपी के खाते में गई थी. अब रामचंद्र पासवान के निधन के बाद उस सीट पर उनके छोटे पुत्र प्रिंस राज के चुनाव में उतरने की पूरी संभावना है. सूत्रों के मुताबिक, एलजेपी ने तय कर लिया है कि प्रिंस राज ही उसकी तरफ से उम्मीदवार होंगे.

Loading...

Ramchandra Paswan
रामचंद्र पासवान के निधन से खाली हुई समस्तीपुर लोकसभा सीट (File Photo)



LJP को नहीं है कोई दुविधा

न्यूज 18 से बातचीत में एलजेपी प्रवक्ता अशरफ अंसारी कहते हैं, ‘समस्तीपुर से चुनाव लड़ने पर अभी चर्चा नहीं हुई है, लेकिन, इस सीट पर कोई दुविधा की स्थिति नहीं है. वहां से हमारे दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामचंद्र पासवान चुनाव लड़े थे.
BJP भी नहीं चाहती तकरार!

दूसरी तरफ, एनडीए की सबसे बड़ी घटक दल बीजेपी भी कह रही है कि एनडीए के भीतर समस्तीपुर उपचुनाव को लेकर कोई खींचतान नहीं है. पार्टी प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन कहते हैं, ‘हमें नहीं लगता कि महागठबंधन के लोग वहां चुनाव भी लड़ेंगे, लेकिन, लड़े तो अच्छा रहेगा.’

Prince Raj
दिवंगत सांसद रामचंद्र के पुत्र प्रिंस राज समस्तीपुर से एनडीए के उम्मीदवार हो सकते हैं.


महागठबंधन में फंसा है पेच

दरअसल, परेशानी एनडीए में ज्यादा नहीं दिख रही है, क्योंकि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के ठीक पहले इस सीट पर किसी तरह के विवाद से एनडीए के दल बचेंगे, लिहाजा यह सीट एलजेपी के ही खाते में बने रहने की संभावना है.


महागठबंधन
बिहार में महागठबंधन के नेता (फाइल फोटो)



कांग्रेस ठोक सकती है दावा

लेकिन, महागठबंधन में इस सीट को लेकर अबतक कुछ साफ स्थिति नहीं दिख रही है. लोकसभा चुनाव में महागठबंधन की तरफ से इस सीट पर कांग्रेस के अशोक राम चुनाव मैदान में थे. कांग्रेस एक बार फिर साफ तौर पर इस सीट पर अपना दावा ठोक रही है.
कांग्रेस के बिहार के सह प्रभारी वीरेंद्र राठौड़ ने न्यूज 18 से बात करते हुए साफ कर दिया ‘पिछली बार समस्तीपुर की लोकसभा सीट कांग्रेस के खाते में आई थी, इसलिए कोई चर्चा की जरूरत ही नहीं.’


साफ-साफ नहीं बोल रही RJD

वहीं, महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी इस मुद्दे पर सधी हुई प्रतिक्रिया दे रही है. पार्टी नेता विनोद श्रीवास्तव मानते है कि ‘महागठबंधन में कोई विवाद नहीं है और जो भी महागठबंधन का उम्मीदवार होगा, समस्तीपुर लोकसभा सीट से उसी की जीत होगी.’

विनोद श्रीवास्तव का कहना है, ‘धरातल पर आरजेडी काफी मजबूत है, तेजस्वी ने अब कमान संभाल लिया है, लिहाजा उपचुनाव में जीत महागठबंधन की ही होगी.’
फिलहाल समस्तीपुर लोकसभा के उपचुनाव के लिए तारीख का ऐलान होना बाकी है, उसके पहले कयास लगाए जाने शुरू हो चुके हैं. फिलहाल भ्रम की स्थिति एनडीए के भीतर कम महागठबंधन के भीतर ज्यादा दिख रही है.


रिपोर्ट- अमितेश


ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 4:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...