लाइव टीवी

Delhi Fire: चार लोगों की जान बचाने के बाद जिंदगी की जंग हार गया सदरे आलम

Mukesh Kumar | News18 Bihar
Updated: December 9, 2019, 12:39 PM IST
Delhi Fire: चार लोगों की जान बचाने के बाद जिंदगी की जंग हार गया सदरे आलम
दिल्ली हादसे में जान गंवाने वाले सदरे आलम का परिवार

जब दिल्ली की फैक्ट्री में भीषण आग लगी थी तो समस्तीपुर के रहने वाले इस युवक ने अपनी जान पर खेलकर चार लोगों को बचाया लेकिन इस भीषण हादसे में वो खुद को नहीं बचा पाया.

  • Share this:
समस्तीपुर. दिल्ली के अनाज मंडी इलाके की फैक्ट्री में रविवार को हुए भी भीषण अग्निकांड (Delhi Fire Accident) की घटना में बिहार समस्तीपुर (Samastipur) के आठ से अधिक लोगों की मौत हुई है. दिल्ली हादसे में अपनी जान गंवाने वाले सभी मृतक सिंघिया के हरपुर और ब्रह्मपुरा गांव के हैं. इस हादसे में जहां आठ लोगों की जान गई (Death) है वहीं कई लोग अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं. कई लोग अभी भी लापता बताए जा रहे हैं.

फैक्ट्री में फंसे लोगों को निकाला

दिल्ली में हुए इस हादसे का शिकार मोहम्मद सदरे आलम भी हुआ है जिसने चार लोगों को अपनी जान पर खेलकर बचाया लेकिन खुद की जान गंवा दी. जब फैक्ट्री में भीषण आग लगी थी लोग उसके अंदर फंसे हुए थे, तो उसने अपनी जान पर खेलकर चार लोगों को बचाया लेकिन इस भीषण हादसे में सदरे आलम खुद को नहीं बचा पाया. सदरे आलम के परिवार के लोगों को जब इस हादसे की जानकारी मिली तो उनके पैर के नीचे की जमीन खिसक गई क्योंकि आलम ही अपने घर का ऐसा चिराग था जिसके ऊपर पूरे परिवार की परवरिश का जिम्मा था.

पूरे परिवार की थी जिम्मेदारी

उसकी बूढ़ी मां का ऑपरेशन पटना के आईजीआईएमएस में हुआ जो एक दिन पूर्व घर आई थी. उसे तो पता भी नहीं कि उसके बेटे के साथ क्या हुआ है. उसकी पत्नी जो गर्भवती है का भी रो-रोकर बुरा हाल है. बहन की शादी करनी थी वह भी अब कैसे होगा इसकी चिंता घर के लोगों को सता रही है. बूढ़ा बाप बेटे के इंतकाल की खबर सुनाते-सुनाते अपने आंसू रोक नहीं पाते.

पत्नी ने कहा- रात को हुई बात, सुबह मिली मौत की खबर

सदरे आलम की गर्भवती पत्नी ने बताया कि आखरी बार उससे रात के 10 बजे बातचीत हुई और उसने बच्चे और घर के लोगों का हालचाल पूछा लेकिन इसके बाद अगली सुबह मनहूस खबर आई कि उसका शौहर अब इस दुनिया में नहीं है. इस घटना के बाद से पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है और लोग पूरे परिवार को ढाढस बंधा रहे हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए समस्तीपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 9, 2019, 12:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर