बिहार: छपरा में बैंक मैनेजर के सिर पर 4 अपराधियों ने तान दी पिस्टल और लूट ली बड़ी रकम, तफ्तीश में जुटी पुलिस

छपरा में बैंक लूट की घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस.

छपरा में बैंक लूट की घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस.

Bank Loot in Chhapra: गुरुवार की दोपहर बैककर्मी खाना खाने की तैयारी में थे. इसी बीच करीब सात-आठ की संख्या में अपराधी बैक में घुस आए और बैंक मौजूद शाखा प्रबंधक सहित चार अन्य कर्मियों को बंधक बना लिया.

  • Share this:

छपरा. बेखौफ अपराधियों का तांडव जारी है. तरैया में सीएसपी से लूट की घटना के तुरंत बाद पानापुर  में भी थाने के चंद कदमों की दूरी पर स्थित बंधन बैंक की शाखा में दिनदहाड़े लूट की घटना को अंजाम दिया गया. बताया जा रहा है कि छह से अधिक की संख्या में आए हथियारबंद अपराधियों एक लाख पचासी हजार रुपये की लूट ली और आराम से फरार हो गए. दिनदहाड़े हुई इस लूट की घटना से लोगों में दहशत है और लोग पुलिस- प्रशासन की नाकामी पर सवाल उठा रहे हैं.

मिली जानकारी के अनुसार  गुरुवार की दोपहर बैककर्मी खाना खाने की तैयारी में जुटे हुए थे. इसी बीच करीब सात-आठ की संख्या में अपराधी बैक में प्रवेश कर गए और बैंक मौजूद शाखा प्रबंधक अरुण कुमार सिंह सहित चार अन्य कर्मियों हथियार का भय दिखाकर बंधक बना लिया. अपराधियों ने सभी के हाथ बांध दिए और मुंह पर टेप भी चिपका दिया. फिर कैश काउंटर में मौजूद कुल एक लाख पचासी हजार रुपये की लूट कर ली. जाते-जाते अपराधी  सीसीटीवी का हार्ड डिस्क भी अपने साथ लेते गए.

शाखा प्रबंधक ने बताया कि सभी अपराधी हथियार से लैस थे. चार अपराधी बैंक के अंदर आए और बाकी चार अपराधी सीढ़ी से लेकर मुख्य गेट तक निगरानी में लागे हुए थे. आते ही उन लोगों ने पूछा कि मैनेजर कौन है, मुझे लगा कि कोई ग्राहक होगा. जैसे ही मैंने बोला हां मैं हूं. फिर क्या मेरे गर्दन पर बंदूक सटा दिए. फिर पास बैठे मेरे अन्य कर्मियों को भी अपने कब्जे में लेकर हाथ मुंह बांध दिए और कैश काउंटर में रखा पैसा निकाल कर फरार हो गए.

घटना की सूचना मिलने पर मढ़ौरा डीएसपी इंद्रजीत बैठा मशरक इंस्पेक्टर उदय प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे और मामले की छान बीन शुरू कर दी. उधर तरैया के पचभिण्डा स्टेट हाईवे के किनारे इंडिया फर्स्ट के सीएसपी केंद्र से 02 लाख 04 हजार की लूट की घटना को भी गुरुवार को ही अंजाम दिया गया. संचालक सोनू यादव ने बताया कि चार युवक आए और बोले कि पैसा निकालना है और उसके बाद एक ने पिस्टल निकाल लिया और कैश और मोबाइल लूट कर भाग गए.
उन्होंने बताया कि दो अपाची पर चार युवक आये थे जो घटना के अंजाम देकर फरार हो गए. दिनदहाड़े हुई लूट की इस घटना के बाद इलाके तक में दहशत है हालांकि पुलिस मौके पर पहुंचकर छानबीन में जुट गई है. जाहिर है दिनदहाड़े हो रही लूट की घटनाओं से छपरा पुलिस प्रशासन पर सवाल खड़े हो रहे हैं. साथ ही बिहार सरकार पर भी जो अपराध के लिए जीरो टॉलरेंस नीति की बात कहती है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज