अब छपरा जेल में कैदी ने मनाई बर्थडे पार्टी, इंस्टाग्राम पर शेयर की तस्वीरें

News18 Bihar
Updated: September 3, 2019, 8:35 AM IST
अब छपरा जेल में कैदी ने मनाई बर्थडे पार्टी, इंस्टाग्राम पर शेयर की तस्वीरें
बिहार के छपरा मंडल कारा में कैदी ने बर्थ डे पार्टी की तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर कीं.

सीतामढ़ी जेल में बंद डॉन द्वारा बर्थडे मनाने की घटना के बाद छपरा के मामले में बवाल मचा है. मामला सामने आने के बाद एसपी ने जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी का गठन किया है.

  • Share this:
बिहार में जेलों की कुव्यवस्था की तस्वीरों के सामने आने का सिलसिला जारी है. सीतामढ़ी कारागार (Sitamadhi Jail) की तरह ही छपरा मंडल कारा (Chhapra Mandala Kara) में भी कैदियों द्वारा जन्मदिन की पार्टी आयोजित करने की तस्वीरें वायरल (Photo Viral) हो रही हैं. News18 के हाथ लगी इस पार्टी की तस्वीरों के सामने आने के बाद एसपी ने मामले की जांच (Investigation) करवाई, जिसमें घटना सही पाई गई.

जानकारी के मुताबिक, जेल से बाहर आई तस्वीरें 21 अगस्त की हैं. छपरा मंडल कारा में आपराधिक मामले में बंद कैदी आनंद ने जेल में अपना जन्मदिन मनाया. हैरानी की बात यह है कि बर्थडे पार्टी का न सिर्फ वीडियो बनाया गया, बल्कि इसे इंस्टाग्राम पर शेयर भी किया गया.

जांच के लिए कमेटी गठित
इस वीडियो की चर्चा तब शुरू हुई जब सीतामढ़ी जेल की घटना के बाद बवाल मचा. मामला सामने आने के बाद एसपी ने अब जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी का गठन किया है. फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.

जेल से जुड़े पुलिसकर्मी हत्याकांड के तार
बता दें कि हाल के दिनों में अपराध जिस कदर बढ़ा है, उसका कनेक्‍शन कहीं ना कहीं जेलों से जुड़ने की बात सामने आ रही है. छपरा में दरोगा-कॉन्स्टेबल हत्याकांड के आरोपियों में एक अरुण सिंह जेल में बंद है. बताया जा रहा है कि जेल के अंदर से ही उसने इतनी बड़ी घटना की साजिश रच डाली, जिससे दो जांबाज पुलिसकर्मियों को जान गंवानी पड़ी.

प्रशासन को खुली चुनौती
Loading...

सवाल यह है कि जेल प्रशासन इस मामले में अब तक अनभिज्ञ कैसे बना रहा? बहरहाल, मंडल कारा के अंदर बर्थडे पार्टी मनाना और फिर उसका वीडियो सोशल मीडिया में शेयर करना, कहीं ना कहीं जेल प्रशासन को खुली चुनौती देना है.

कैसे रुकेगा क्राइम?
दरअसल, कैदियों को जेल में इसलिए रखा जाता है, ताकि इन्हें अपनी गलती का एहसास हो और आगे अपराध से तौबा करें. लेकिन, जेल के अंदर अगर इन्हें ऐसी सुविधाएं मिलेंगी तो अपराध पर लगाम लग पाना मुश्किल है.

रिपोर्ट- संतोष गुप्ता

ये भी पढ़ें- 

कैमूर के निजी स्कूल में टॉयलेट से मिला छात्र का शव, प्रिंसिपल समेत 5 पर FIR

नए स्लोगन में छिपी है JDU की ये खास रणनीति

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 3, 2019, 7:57 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...