भाई से था अवैध संबंध, रिश्तों में आड़े आ रही सास को हटाने के लिए बहू ने रची खौफनाक साजिश

प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

थानाध्यक्ष ने बताया कि रामविनोद गिरि के एकलौता मंदबुद्धि पुत्र मनमोहन उर्फ सोनू की शादी दस साल पहले सीवान जिले के पिपरिया जामा बाजार निवासी प्रियंका कुमारी से हुई थी.

  • Share this:
बिहार के सारण जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक बहू ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर सास की हत्या कर दी. कहा जा रहा है कि बहू ने गला दबाकर सास की हत्या की है. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है.

जानकारी के मुताबिक, मामला एकमा थाना क्षेत्र स्थित रसूलपुर मठिया चट्टी का है. पीड़ित परिवार यहीं का रहने वाला है. सास की हत्या के बारे में पुलिस को किसी ने सूचना दी थी. सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए बहु प्रियंका देवी, प्रेमी पिंटू गिरि, 65 वर्षीया मृतका धर्मावती देवी के पति राम विनोद गिरि को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही पूछताछ भी शुरू कर दी है.

थानाध्यक्ष ने बताया कि रामविनोद गिरि के एकलौता मंदबुद्धि पुत्र मनमोहन उर्फ सोनू की शादी दस साल पहले सीवान जिले के पिपरिया जामा बाजार निवासी प्रियंका कुमारी से हुई थी. धन संपत्ति की लालच में लड़की ने मंदबुद्धि लड़के से शादी कर ली थी. शादी के बाद प्रियंका के दो पुत्र भी हुए. कहा जा रहा है कि प्रियंका के अपने फुफेरा भाई पिंटू गिरि से अवैध सम्बंध थे, जिसे वह शादी के बाद भी बरकरार रखी. ऐसे में प्रियंका की सास मृतका धर्मावती देवी अवैध सम्बंध का विरोध करती थी. यही वजह है कि उसकी हत्या कर दी गई.



सूत्रों की मानें तो इसके पूर्व भी धर्मावती को मारने के लिए जहर दिया गया था. इस सम्बंध में मृतका के पति रामविनोद गिरि की संदिग्ध भूमिका की भी चर्चा है. जिसे भी पुलिस जांच करने में जुटी है कि उनके द्वारा घटना को क्यों छुपाया जा रहा था. पुलिसिया पूछताछ में गिरफ्तार बहू और उसके आशिक भाई ने अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है.
ये भी पढ़ें- 

पीएम का जबरा फैन, जीत की खुशी में सीने पर चाकू से लिखा 'मोदी

29 मई तक का इंतजार कीजिए, दिखेंगे आरजेडी की करारी हार के साइड इफेक्ट्स

बारात लेकर पहुंची दुल्हन, बोली- दूल्हा लेने आए हैं, लेकर ही जाएंगे

लोकसभा चुनाव में 10 सर्वाधिक धनी प्रत्याशियों में से 5 जीते, सबसे अमीर की लुटिया डूबी

गिरिराज बोले- जातिवाद, वंशवाद और छद्म धर्मनिरपेक्षवाद के सामने पीएम मोदी ने खींची बड़ी रेखा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज