COVID-19: कड़वा सच! कोरोना प्रभावित गांव में हेलमेट पहनकर छिड़काव करता नजर आया स्वास्थ्यकर्मी
Saran News in Hindi

COVID-19: कड़वा सच! कोरोना प्रभावित गांव में हेलमेट पहनकर छिड़काव करता नजर आया स्वास्थ्यकर्मी
छपरा के कोरोना प्रभावित गांव में हेलमेट पहनकर छिड़काव करता स्वास्थ्यकर्मी.

कोरोना से बचाव के लिए पर्याप्त किट नहीं होने के कारण स्वास्थ्यकर्मी सीमित संसाधनों में जान खतरे में डालकर लोगों की जान बचाने के लिए दिन रात प्रयास कर रहे हैं. इन स्वास्थ्यकर्मियों को जज्बे को सलाम किया जा सकता है, लेकिन...

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
छपरा. जिले में कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) मिलने के बाद इसुआपुर के चांदपुरा गांव के 3 किलोमीटर दायरे के एरिया को सेनिटाइज (Sanitize) किया जा रहा है. इलाके में एन्टी लार्वा केमिकल का छिड़काव भी किया जा रहा है. प्रभावित चांदपुरा गांव को सील करते हुए क्वॉरेंटाइन वार्ड में व्यवस्था को भी दुरुस्त किया गया है,  लेकिन गांव में छिड़काव की एक तस्वीर सामने आई है जिसने स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों की कलई खोल दी है. यहां छिड़काव करने वाला कर्मी कोरोना से बचाव के लिए हेलमेट पहन कर छिड़काव करता नजर आ रहा है.

स्वास्थ्यकर्मियों को नहीं दी गई सुविधाएं
कोरोना से बचाव के लिए पर्याप्त किट नहीं होने के कारण स्वास्थ्यकर्मी सीमित संसाधनों में जान खतरे में डालकर लोगों की जान बचाने के लिए दिन रात प्रयास कर रहे हैं. इन स्वास्थ्यकर्मियों को जज्बे को सलाम किया जा सकता है, लेकिन इन्हें बेहतर सुविधाएं दी जाती हैं. तो जाहिर तौर पर यह और बेहतर काम करते.

गांव को किया गया है सील



विभाग के अधिकारियों के अनुसार प्रभावित गांव को सैनिटाइज करने के लिए 30 कर्मचारियों को 3 किलोमीटर के दायरे को सैनिटाइज करने का जिम्मा दिया गया है जिसमें यह तमाम कर्मचारी लगे हुए हैं. जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन के आदेश पर यह कार्रवाई शुरू की गई है. पूरे गांव को पूरी तरह से सील कर दिया गया है.



सात किमी का दायरा बफर जोन
संक्रमित गांव की परिधि से लेकर सात किलोमीटर की दूरी तक "बफर जोन" घोषित किया गया है. डीएम ने इसुआपुर के बीडीओ तथा अंचल पदाधिकारी को आदेश दिया है कि चांदपुरा पंचायत को चारों तरफ से सील कर आवागमन को पूरी तरह बाधित कर दे और अगले आदेश तक उस गांव को क्वानटाइनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है.

आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध
सभी सरकारी तथा निजी प्रतिष्ठान एवं मार्गों को अगले आदेश तक बंद करने को कहा गया है. डीएम ने चांदपुरा गांव को संक्रमण मुक्त करने का आदेश दिया गया है. जिला मलेरिया पदाधिकारी को संक्रमण मुक्त करने के कार्यों की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी दी गई है क्वरेंटाइनमेंट जोन में रहने वाले सभी परिवारों की गहन निगरानी की जा रही है.

डोर टू डोर पहुंचाया जा रहा राशन
जिलाधिकारी ने आदेश दिया है कि इस गांव के सभी परिवारों को आवश्यक राशन सामग्री डोर टू डोर पैकेट तैयार कर आपूर्ति की जाए. इसके लिए प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है.  बफर जोन में आने वाले सभी स्वास्थ्य संस्थान सरकारी एवं निजी सहित अन्य चिकित्सकीय संस्थाओं को सूचीबद्ध करते हुए बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ वाले मरीजों की जांच कर सूचना नियमित रूप से प्राप्त करने का भी सिविल सर्जन को आदेश दिया गया है.

ये भी पढ़ें


पीएम मोदी ने की 'प्रकाश की शक्ति' दिखाने की अपील तो तेजप्रताप ने लालटेन पर कही ये बात...




तीन दिनों से भूखी बहनों ने PMO को किया फोन तो राशन लेकर दौ़ड़े-दौड़े पहुंचे अफसर, जानें क्या है मामला

First published: April 3, 2020, 2:41 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading