बिहार के इस विद्यालय में छात्रों को दिए जाते हैं पद्मश्री, पद्म विभूषण और भारत रत्न

छपरा के एक सरकारी विद्यालय में दिए जाते हैं भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार.

सफल बच्चों को दिए जाने वाले देश के सर्वश्रेष्ठ पुरस्कारों को पाने के लिए बच्चे साल भर काफी मेहनत करते हैं और जब रिजल्ट की बारी आती है तो उनके चेहरे पर खुशी साफ देखी जा सकती हैं.

  • Share this:
    छपरा. एक ऐसा सरकारी विद्यालय हैं जहां के सफल छात्रों को देश का सर्वोच्च पुरस्कार पद्मश्री, पद्म भूषण और भारत रत्न ( Padma Shri Padma Vibhushan and Bharat Ratna) के नाम पर दिया जाता है. बच्चे इस पुरस्कार को पाने के लिए काफी मेहनत करते हैं और इस पुरस्कार को पाने के बाद उनमें बढ़ा हुआ आत्मविश्वास देखा जा सकता है. सारण जिला मुख्यालय छपरा से 15 किलोमीटर दूर स्थित है मानसर कुमना गांव का स्थित महंत मेथी भगत उच्च विद्यालय सह इंटर कॉलेज में 3 साल पूर्व एक अभिनव प्रयोग किया. बताया जा रहा है कि ये अनोखा प्रयोग यहां के छात्र-छात्राओं के लिए काफी लाभकारी साबित हो रहा है.

    सफल बच्चों को दिए जाने वाले देश के सर्वश्रेष्ठ पुरस्कारों को पाने के लिए बच्चे साल भर काफी मेहनत करते हैं और जब रिजल्ट की बारी आती है तो उनके चेहरे पर खुशी साफ देखी जा सकती हैं.  विद्यालय के प्रधानाध्यापक सुदीश कुमार बताते हैं कि बच्चों के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा की भावना को विकसित करने के लिए विद्यालय नया निर्णय लिया था जो अब काफी सही साबित हो रहा है.

    इस बार विद्यालय रत्न पाने वाली छात्रा निभा व पद्मविभूषण पाने वाली छात्रा काजल ने बताया कि उन्हें काफी खुशी है कि उनको यह पुरस्कार मिला है और वे बड़ी होकर सही मायने में इन पुरस्कारों को पाने के लिए कोशिश करेंगी. बता दें कि कुमना गांव का यह सरकारी विद्यालय निजी विद्यालयों के तर्ज पर हरेक साल अपना वार्षिक समारोह भी मनाता है जिस दौरान यह पुरस्कार बच्चों को दिए जाते हैं.

    इन खास पुरस्कारों को पाने के लिए बच्चे सालों भर कड़ी मेहनत करते हैं.


    पुरस्कारों को बांटने के लिए जिले के कई बड़े समाजसेवी और शिक्षाविद विद्यालय आते हैं जो बच्चों को सफलता के गुर भी सिखाते हैं. शिक्षाविद हरेंद्र सिंह इस विद्यालय के प्रयास की काफी सराहना कर रहे हैं और इसे बच्चों के मनोबल को बढ़ाने वाला बता रहे हैं.

    एक सरकारी विद्यालय द्वारा शुरू किए गए इस अभिनव प्रयोग की सभी सराहना कर रहे हैं.


    गौरतलब है कि इस विद्यालय के बच्चे लगातार अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे हैं. जिले में कोई भी प्रतियोगिता हो इस विद्यालय के बच्चे मेरिट लिस्ट में जरूर नजर आते हैं. देश के इन महत्वपूर्ण पुरस्कारों के नाम पर दिए जाने वाले पुरस्कार को पाने की ललक इन बच्चों को अच्छा करने के लिए प्रेरित कर रही है.

    रिपोर्ट- संतोष गुप्ता

    ठंड के मौसम में ये शख्‍स घूम-घूमकर आवारा जानवरों को पहनाता है गर्म कपड़े...

    बिहार विधान सभा चुनाव से पहले क्या मोदी सरकार में शामिल होने जा रही JDU?

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.