लोकसभा चुनाव 2019: मोदी-शाह के खास हैं रूडी, पढ़ें छात्र जीवन से अब तक का सफर

राजीव प्रताप रूडी वर्तमान में बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद पर हैं और पीएम मोदी के साथ अमित शाह के भी वे करीबी माने जाते हैं.

News18 Bihar
Updated: April 30, 2019, 3:32 PM IST
लोकसभा चुनाव 2019: मोदी-शाह के खास हैं रूडी, पढ़ें छात्र जीवन से अब तक का सफर
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ एक कार्यक्रम में राजीव प्रताप रूडी (फाइल फोटो)
News18 Bihar
Updated: April 30, 2019, 3:32 PM IST
बिहार में लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में सबसे अधिक सारण लोकसभा सीट पर लोगों की नजरें टिकी हुई हैं. यहां महागठबंधन की ओर से लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय और एनडीए की ओर से बीजेपी के राजीव प्रताप रूडी के बीच सीधा मुकाबला माना जा रहा है. वर्तमान में राजीव प्रताप रूडी यहां से सांसद हैं और वे पीएम मोदी के कैबिनेट में केंद्रीय मंत्री का पद संभाल चुके हैं. वर्ष 2014 लोकसभा चुनाव में उन्होंने बिहार की पूर्व सीएम को यहां से मात दी थी.

राजीव प्रताप रूडी वर्तमान में बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद पर हैं और पीएम मोदी के साथ अमित शाह के भी वे करीबी माने जाते हैं. बिहार में एक वक्त राजीव प्रताप रूडी को सीएम पद का चेहरा बनाने की भी मांग उठ चुकी है.



रूडी गोवा के प्रभारी रहे हैं. केंद्र सरकार में कौशल विकास और उद्यमिता मामलों के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और संसदीय कार्य राज्यमंत्री हैं. रूडी युवा नेता और अच्छे वक्ता माने जाते हैं और पार्टी में काबिज अमित शाह-मोदी गुट के भरोसेमंद माने जाते हैं.

rajiv pratap roody1
राजीव प्रताप रूडी (Photo: Twitter)


ये भी पढ़ें- बिहार: पांचवें चरण में 82 प्रत्याशियों के बीच चुनावी जंग, पढ़ें सभी 5 सीटों के समीकरण

30 मार्च 1962 को पटना में जन्मे रूडी वस्तुत सारण जिले के रहने वाले हैं. उन्‍होंने पटना के अनुग्रह नारायण कॉलेज से अर्थशास्‍त्र में स्‍नातक, पंजाब विश्‍वविद्यालय से अर्थशास्‍त्र में एमए की पढ़ाई पूरी की. इसके बाद उन्होंने एलएलबी और कमर्शियल पायलेट लाइसेंस की पढ़ाई भी पंजाब विश्‍वविद्यालय से पूरी की.

rajiv pratap roody
राजीव प्रताप रूडी और सीएम नीतीश कुमार (Photo: Twitter)

Loading...

रूडी पटना के ए. एन. कॉलेज में लेक्चरर भी रहे हैं. रूडी अपने छात्र जीवन में ही रूडी राजनीति से जुड़ गए थे. और भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी रहे हैं. इनका विवाह हिमाचल प्रदेश की नीलम से हुआ. इनकी दो बेटियां हैं अवश्रेया और अतिशा.

राजीव प्रताप रूडी की राजनीतिक शुरुआत छात्र जीवन से ही हो गई थी. सबसे पहले वे गवर्नमेंट कॉलेज चंडीगढ़ के अध्यक्ष चुने गए, बाद में पंजाब विश्वविद्यालय छात्रसंघ के महासचिव निर्वाचित हुए. विश्वविद्यालय राजनीति के राजनीति के बाद वह बिहार में बीजेपी की युवा शाखा के सक्रिय सदस्य बने. इसके बाद भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए गए.

ये भी पढ़ें- बिहार: भीषण गर्मी को मात दे रहे वोटर, हर फेज में बढ़ा मतदान प्रतिशत

1990 में महज छब्बीस साल की उम्र में वे बिहार विधानसभा के विधायक के रूप में चुने गए. उनकी गिनती सबसे कम उम्र के विधायकों में से एक के रूप में हुई. 1996 में वे छपरा से लोकसभा के लिए चुने गए और 1999 में दोबारा चुने जाने के बाद अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री के रूप में शामिल हुए. बाद में उन्हें स्वतंत्र प्रभार के साथ नागरिक उड्डयन मंत्री बनाया गया.

रूडी एक प्रशिक्षित पायलट भी हैं. वे यूएस फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (FAA) अनुमोदित मियामी, फ्लोरिडा के सिमसेंटर (SimCenter) से ए-320 विमान उड़ाने की विशेषज्ञता प्राप्त वाणिज्यिक पायलट लाइसेंसधारक हैं.

पार्टी संगठन में भी रूडी सक्रिय रहे हैं. वे गोवा और महाराष्ट्र के राज्य प्रभारी के रूप में काम कर चुके हैं. रूडी  आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं. बिहार की राजनीति में रूडी सबसे कम विवादों वाले और तेजी से उभरते युवा नेता के रूप में उभरे हैं और बीजेपी नेतृत्व को भी उनपर विश्वास है.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव 2019: बिहार में 2.74 प्रतिशत बढ़ा मतदान, शाम 6 बजे तक 58.92 प्रतिशत हुई वोटिंग

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...