धोखाधड़ी के मामले में बढ़ी खेसारी लाल यादव की मुश्किलें, पुलिस कर सकती है पूछताछ

News18 Bihar
Updated: August 19, 2019, 10:06 AM IST
धोखाधड़ी के मामले में बढ़ी खेसारी लाल यादव की मुश्किलें, पुलिस कर सकती है पूछताछ
खेसारी लाल यादव मूल रूप से बिहार के ही रहने वाले हैं (फाइल फोटो)

चेक बाउंस मामले में खेसारी लाल यादव ने पूछे जाने पर बताया कि उनके खाते में पचास लाख से ज्‍यादा रुपए हैं, ऐसे में चेक बाउंस हो ही नहीं सकता. उन्‍होंमने भुगतान रोकने का आरोप लगाया है.

  • Share this:
चेक बाउंस (Check Bounce) को लेकर धोखाधड़ी (Fraud Case) के मामले में फंसे भोजपुरी गायक (Bhojpuri Singer) और अभिनेता खेसारी लाल यादव (Khesari Lal Yadav) की मुश्किलें बढ़ गई है. इस मामले में सारण (Saran) पुलिस की टीम खेसारी लाल यादव से कभी भी पूछताछ कर सकती है.

बाउंस कर गया था चेक

चेक बाउंस को लेकर सारण के रसूलपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है जिसमें जमीन की खरीद बिक्री के दौरान खेसारी लाल यादव पर 18 लाख का चेक देने का आरोप लगाया गया है जो चेक बाद में बाउंस कर गया. रसूलपुर थाने के असहनी गांव निवासी मृत्युंजय पांडेय ने खेसारी लाल यादव पर आरोप लगाया है कि जमीन खरीद के मामले में उन्होंने गलत चेक देकर ठगी की गई है.

खेसारी ने किया खंडन

इन आरोपों का खेसारी लाल यादव ने खंडन किया है और झूठा बताया है. खेसारी ने कहा कि जिस जमीन की खरीद-बिक्री हो रही थी उस जमीन के विवादित होने का पता चला जिसके बाद चेक का भुगतान रोका गया है. इस हाई प्रोफाइल मामले पर अब लोगों की निगाहें टिकी हैं हालांकि पुलिस कुछ भी कहने से फिलहाल बच रही है.

बीवी के नाम पर ली थी जमीन

असहनी गांव के मृत्युंजय पाण्डेय ने एफआईआर में कहा है कि अभिनेता की पत्नी चंदा देवी के नाम से सात कट्ठा (बिसवा) जमीन चैनवा चट्टी के समीप 22 लाख रुपए में रजिस्ट्री कराई गई थी, जिसके लिए खेसारी लाल ने उनको बैंक ऑफ बड़ौदा के नाम से 18 लाख रुपए का चेक दिया था. शेष रकम बाद में भुगतान करने को कहा गया था. आरोप है कि चेक तीन महीने में दो बार लौट कर आ गया और बाउंस होने के कारण भुगतान नहीं हो सका.
Loading...

खेसारी लाल बोले- अकाउंट में 50 लाख

चेक बाउंस मामले में खेसारी लाल यादव ने पूछे जाने पर बताया कि उनके खाते में पचास लाख से ज्‍यादा रुपए हैं, ऐसे में चेक बाउंस हो ही नहीं सकता. उन्‍होंमने भुगतान रोकने का आरोप लगाया है. खेसारी लाल ने कहा कि रजिस्ट्री करने वाले मृत्युंजय पांडेय ने रुपये भुगतान के पहले दाखिल खारिज करने की बात की थी, क्योंकि उस जमीन का दाखिल खारिज किसी और के नाम से है. जिससे मृत्‍युंजय ने जमीन खरीदी थी.

केस करने की कही बात

खेसारी लाल ने कहा कि तीन महीना बीतने के बाद भी उस जमीन का दाखिल खारिज मृत्‍युंजय ने अपने नाम से नहीं करा सके, इसलिए उन्हें आशंका है कि इस जमीन की खरीद बिक्री में उनके साथ धोखाधड़ी की गई है. जब तक जमीन का दाखिल खारिज नहीं हो जाती तब तक भुगतान रुका रहेगा. दाखिल खारिज नहीं होने पर वे खुद धोखाधड़ी की प्राथमिकी करेंगे.

रिपोर्ट- संतोष गुप्ता

ये भी पढ़ें- पुलिसिया कार्रवाई से गुस्से में हैं बाहुबली MLA अनंत सिंह, जारी किया वीडियो

ये भी पढ़ें- अनंत सिंह का 'राजदार' है केयरटेकर, रिमांड पर लेने की तैयारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 19, 2019, 10:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...