बिहार: खत्म हुई पानी को लेकर किचकिच, छपरा जंक्शन पर शुरू हुआ क्विक वाटरिंग सिस्टम

छपरा जंक्शन पर लगा क्विक वाटरिंग सिस्टम

छपरा जंक्शन पर लगा क्विक वाटरिंग सिस्टम

Chhapra News: क्विक वाटरिंग सिस्टम के लग जाने से छपरा स्टेशन से गुजरने वाली गाड़ियों समेत यहां से ओरिजनेट होने वाली गाड़ियों के यात्रियों को पानी की उपलब्धता निरन्तर मिलेगी.

  • Share this:

छपरा. गर्मी आते ही ट्रेनों में पानी की समस्या बढ़ जाती है पर छपरा जंक्शन पर अब इस समस्या को दूर करने की पूरी व्यवस्था कर ली गई है. छपरा जंक्शन  पर क्विक वाटरिंग सिस्टम लगाया गया है जिसके जरिए अब ट्रेनों में 5 मिनट के अंदर सभी कोच में पानी भरा जा सकेगा. पहले इसके लिए 15 से 20 मिनट समय लगता था. कई बार इसके बावजूद पानी नहीं भरा जाता था.

मंडल रेल प्रबंधक श्री विजय कुमार के अनुसार क्विक वाटरिंग सिस्टम तकनीकी से अल्प समय मे ही ट्रेनों में वाटर रिफलिंग का कार्य सम्पन्न हो जाता है. इस सिस्टम के उपयोग से 24 कोच की एक सामान्य गाड़ी में पानी भरने में मात्र 10 मिनट ही लगते हैं. इसका लाभ लम्बी दूरी की कम ठहराव वाली गाड़ियों के यात्रियों को मिलेगा वहीं इस क्विक वाटरिंग सिस्टम से जल संचयन भी होगा और  जल प्रदूषण पर भी नियंत्रण स्थापित हो सकेगा.

इस सिस्टम के लग जाने से छपरा स्टेशन से गुजरने वाली गाड़ियों समेत यहां से ओरिजनेट होने वाली गाड़ियों के यात्रियों को पानी की उपलब्धता निरन्तर मिलेगी. इसके पूर्व वाराणसी मंडल के मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन पर भी क्विक वाटरिंग सिस्टम विगत वर्ष से कार्यरत है और वहां से गुजरने वाली गाड़ियों के यात्रियों को लाभान्वित कर रहा है.

CDO हरिशंकर कुमार ने बताया कि यह पूरा सिस्टम कम्प्यूटर आधारित है जिसका फायदा यहां से गुजरने वाली ट्रेनों के यात्रियों को मिलेगा. उन्होंने बताया कि यह सुविधा फिलहाल इस मंडल के दो अन्य स्टेशनों पर है और छपरा तीसरा स्टेशन बन गया है जहां इस सुविधा का लाभ यात्रियों को मिलेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज