2 साल से बाढ़ पीड़ितों का इस स्कूल पर है 'कब्जा', पढ़ें वजह

मामला रिविलगंज प्रखंड के कन्या मध्य विद्यालय रामेश्वर टोला का है जिसमें एक परिवार ने 2 साल से अपना आशियाना बना रखा है.

News18 Bihar
Updated: July 24, 2019, 2:36 PM IST
2 साल से बाढ़ पीड़ितों का इस स्कूल पर है 'कब्जा', पढ़ें वजह
स्कूल बना आशियाना
News18 Bihar
Updated: July 24, 2019, 2:36 PM IST
बिहार के सारण जिले में एक स्कूल पर बाढ़ पीड़ितों ने पिछले 2 सालों से अपना आशियाना बना लिया है. 2017 में आई बाढ़ के बाद प्रशासन ने इन्हें स्कूल में रखने का निर्देश दिया था लेकिन 2 साल बाद भी इनका पुनर्वास नहीं किया गया लिहाजा इन लोगों ने स्कूल को ही अपना घर बना लिया है और स्कूल के बच्चे अब बरामदे या पेड़ के नीचे बैठकर पढ़ने को विवश हैं.

मामला रिविलगंज प्रखंड के कन्या मध्य विद्यालय रामेश्वर टोला का है जिसमें एक परिवार ने 2 साल से अपना आशियाना बना रखा है. यह परिवार 2017 में आई बाढ़ का विस्थापित है जिसे अस्थाई तौर पर स्कूल में रहने की अनुमति दी गई थी लेकिन 2 साल बाद भी यह परिवार स्कूल में रहने को मजबूर है जिससे बच्चों की पढ़ाई बाधित हो रही है. हालांकि इस परिवार के रहने से जो परेशानियां है उसे लेकर स्कूल के प्राचार्य कई बार आला अधिकारियों को अवगत करा चुके हैं लेकिन अब तक इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं हुई.

बाढ़ पीड़ितों की वजह से बरामदे पर पढ़ने को मजबूर हैं बच्चे


विस्थापित बोले- जब तक नहीं मिलेगा मकान, तब तक स्कूल को ही बनाएंगे आशियाना

विस्थापित परिवार के मुखिया हरेराम प्रसाद ने डीएम के आदेश का हवाला देते हुए कहा कि जब तक उन्हें अपना मकान नहीं मिलता तब तक वह इस स्कूल को ही आशियाना बनाकर रहेंगे. वहीं स्कूल के प्रभारी प्राचार्य रविंद्र राम का कहना है कि उन्होंने समस्या को लेकर कई बार आला अधिकारियों को जानकारी दी है. अपने इस दावे के समर्थन में प्रचार रविंद्र राम ने न्यूज18 को कई पत्र भी दिखाए.

प्रशासन ने दिया जल्द समाधान का आश्वासन
वहीं, सारण के डीएम सुब्रत कुमार सेन से बात की तो डीएम ने भी इस मामले की जानकारी होने की बात कही और उन्होंने कहा कि जल्द ही इस समस्या का समाधान कर लिया जाएगा.
Loading...

बहरहाल, बाढ़ पीड़ित परिवार ने दो कमरों और शौचालय पर अपना कब्जा जमा रखा है जिसका खामियाजा इस स्कूल के छात्र भुगत रहे हैं. स्कूल में मिड डे मील बाधित है और तमाम सरकारी योजनाएं जमीन पर धूल फांकती दिख रही है. ऐसे में पिछले 2 सालों से बाढ़ पीड़ितों का स्कूल पर कब्जा जमाना कहीं न कहीं प्रशासनिक विफलता को दर्शा रहा है.

ये भी पढ़ें- 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 24, 2019, 2:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...