Home /News /bihar /

cyber crime sheikhpura district magistrate dm sawan kumar fake whatsapp group demand money from officials nodmk8

OMG! शेखपुरा DM के नाम से बनाया फ़र्जी Whatsapp ग्रुप, अधिकारियों को मैसेज भेज मांगे पैसे

शेखपुरा के जिलाधिकारी सावन कुमार ने लोगों को साइबर ठगों से आगाह करते हुए हुए उन्हें किसी तरह का फर्जी या मिलते-जुलते नाम से साइबर ठगी करने के प्रयास के प्रति सजग रहना चाहिए

शेखपुरा के जिलाधिकारी सावन कुमार ने लोगों को साइबर ठगों से आगाह करते हुए हुए उन्हें किसी तरह का फर्जी या मिलते-जुलते नाम से साइबर ठगी करने के प्रयास के प्रति सजग रहना चाहिए

Bihar News: शेखपुरा के जिलाधिकारी सावन कुमार का फर्जी व्हाट्सएप ग्रुप बना कर सदर एसडीओ, जिला खनिज पदाधिकारी सहित अन्य वरीय अधिकारियों से राशि की डिमांड की गई है. इस बात की चर्चा अधिकारियों में होने लगी तो इसकी खबर डीएम तक पहुंची. उन्होंने पूरे मामले का संज्ञान लिया और तत्काल लोगों से अपील की गई कि मोबाइल नंबर 9664781209 से फर्जी व्हाट्सएप ग्रुप बना कर साइबर अपराधी ठगी का काम कर रहे हैं

अधिक पढ़ें ...

शेखपुरा. बिहार में साइबर क्राइम (Cyber Crime) का जाल फैलता जा रहा है. साइबर अपराधियों (Cyber Criminals) ने अब शेखपुरा के जिलाधिकारी (डीएम) सावन कुमार को अपना निशाना बनाया है. डीएम का फर्जी व्हाट्सएप ग्रुप (Whatsapp Group) बना कर सदर एसडीओ, जिला खनिज पदाधिकारी सहित अन्य वरीय अधिकारियों से राशि की डिमांड करने का मामला सामने आया है. इस बात की चर्चा अधिकारियों में होने लगी तो इसकी खबर डीएम सावन कुमार (DM Sawan Kumar) तक पहुंची. डीएम ने पूरे मामले का संज्ञान लिया और तत्काल लोगों से अपील की गई कि मोबाइल नंबर 9664781209 से फर्जी व्हाट्सएप ग्रुप बना कर साइबर अपराधी ठगी का काम कर रहे हैं.

जिलाधिकारी के साथ साइबर फर्जीवाड़ा की खबर पूरे जिले में आग की तरह फैल गई. पुलिस ने मोबाइल नंबर की जांच की तो उसका सिम प्रेम जी भाई हरी जी भाई चौहान के नाम से मिला जो गुजरात से रजिस्टर्ड है. पुलिस ने केस दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दी है. वहीं, डीएम सावन कुमार ने प्रेस वार्ता कर कहा कि अगर मेरे नाम से, या मेरा करीबी होने की बात कह कर कोई व्यक्ति दोहन करता है तो वो भी साइबर अपराध की श्रेणी में आता है. उन्होंने कहा कि मेरे फर्जी फेसबुक और व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से ठगी का प्रयास उजागर हो जाने से कई अधिकारी ठगे जाने से बच गए.

डीएम ने लोगों को साइबर ठगों से आगाह करते हुए हुए उन्हें किसी तरह का फर्जी या मिलते-जुलते नाम से साइबर ठगी करने के प्रयास के प्रति सजग रहना चाहिए.

न्यूज़ 18 भी आम लोगों से अपील करता है कि यदि कोई व्हाट्सएप ग्रुप अथवा किसी अन्य सोशल साइट से प्रलोभन देता है अथवा राशि की डिमांड करता है तो सावधान रहें, सतर्क रहें. साथ ही पुलिस और साइबर डिपार्टमेंट से ऐसे जालसाज की शिकायत करें.

Tags: Bihar News in hindi, Cyber Crime, Cyber Fraud, District Magistrate, OMG News, Whatsapp groups

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर