बिहार- बेटी को किडनी देने से मां-बाप ने किया इनकार, कहा- लड़की है वह

पीड़िता के पिता रामेश्वर प्रसाद का कहना है, 'लड़की है, इसे अपनी किडनी कौन देगा. इसमें बहुत खर्च होगा, हम गरीब हैं, गरीबी के कारण उसका इलाज कराने में भी हम असमर्थ हैं.'

News18 Bihar
Updated: July 29, 2019, 7:15 AM IST
बिहार- बेटी को किडनी देने से मां-बाप ने किया इनकार, कहा- लड़की है वह
अस्पताल में भर्ती कंचन
News18 Bihar
Updated: July 29, 2019, 7:15 AM IST
बिहार के शेखपुरा जिले में मैट्रिक की छात्रा कंचन कुमारी जिंदगी और मौत से जूझ रही है. कंचन की दोनों किडनी फेल हो गई हैं. डॉक्टर ने जब इसके बारे में लड़की की मां और पिता को बताया तो दोनों ने किडनी देने से इनकार कर दिया. ऐसे में एक शख्स ने कंचन की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया. जब खुद के मां-बाप ने बच्ची को मरने के लिए छोड़ दिया ऐसे में एक शख्स ने कंचन को किडनी दान करने का फैसला किया. अब कंचन की जीने की आस बढ़ गई है.

शेखपुरा की छात्रा कंचन की दोनों किडनी फेल हो गई हैं. डॉक्टर ने कंचन को कुछ ही दिन का मेहमान बताया है. कंचन को सदर अस्पताल से डॉक्टर ने डिस्चार्ज कर दिया है. कंचन कोरमा थाना क्षेत्र के चाढ़े गांव की है. इस वर्ष मैट्रिक की परीक्षा पास कर आगे की पढ़ाई करना चाहती है. जब कंचन को पता चला कि उसकी दोनों किडनी खराब हैं और ज्यादा दिन तक जिंदा नहीं रहेगी तो कंचन ने पिता से जिंदा रहने की गुहार लगाई और आगे पढ़ाई करना चाहती है. लेकिन पिता किडनी नहीं देना चाहते हैं. पीड़िता के पिता रामेश्वर प्रसाद का कहना है, 'लड़की है, इसे अपनी किडनी कौन देगा. इसमें बहुत खर्च होगा, हम गरीब हैं, गरीबी के कारण उसका इलाज कराने में भी हम असमर्थ हैं.'

किडनी दानकर्ता गौतम प्रसाद


कहा जाता है कि जिसका कोई नहीं होता, उसका खुदा होता है. यही स्थिति कंचन के मामले में बनी. जब मां और पिता ने किडनी देने से हाथ खड़ा कर दिया तो एक फरिश्ता मिला, जिसका नाम है गौतम प्रसाद. नगर के गिरहिन्डा मोहल्ले में रहने वाले गौतम प्रसाद को जब पता चला कि कंचन आगे पढ़ना चाहती है तो वो अपनी किडनी कंचन को दान देने के लिए सदर अस्पताल पहुंच गया.

किडनी दानकर्ता गौतम प्रसाद ने बताया कि उसके बेटे की मौत कैंसर से हो गई थी. जब उसने अखबार में पढ़ा कि एक बच्ची की दोनों किडनी फेल हो गई हैं तो बच्ची के लिए किडनी दान करने का फैसला किया.


सदर अस्पताल के उपाधीक्षक क्टर शरदचन्द्र ने गौतम के प्रयास की सराहना की और कहा कि स्वास्थ्य विभाग कंचन कुमारी को पूरा सहयोग करेगा. वहीं जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम निर्मल कुमार ने कहा कि गौतम की कोशिश से एक बच्ची को नई जिंदगी मिलने वाली है. इससे समाज मे एक बेहतर संदेश जाएगा.

(रिपोर्ट- अजीत कुमार सिन्हा)
Loading...

 

ये भी पढ़ें--

शौहर ने 100 रुपये के स्टांप पर भोजपुरी एक्ट्रेस को भेजा ‘तलाकनामा’, 2016 में की थी लव मैरिज

'सिंघम स्टाइल' वाला VIDEO शेयर कर फंसे UP पुलिस के अफसर

मरीज की मौत, झोलाछाप डॉक्टर बोला- लड़की सो गई है, घर ले जाओ

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए शेखपुरा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 29, 2019, 6:03 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...