लाइव टीवी

अनोखा है भासर गोट का प्राथमिक विद्यालय, छात्रों की जगह आते हैं मवेशी

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: July 9, 2017, 11:00 AM IST

सीतामढ़ी की शिक्षा व्यवस्था अपनी बदहाली को लेकर हमेशा सुर्खियों मे रही है.कभी अधिकारियों की लापरवाही तो कभी शिक्षकों के समान्य ज्ञान ने सीतामढ़ी का शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाया है.

  • Share this:
सीतामढ़ी की शिक्षा व्यवस्था अपनी बदहाली को लेकर हमेशा सुर्खियों मे रही है.कभी अधिकारियों की लापरवाही तो कभी शिक्षकों के समान्य ज्ञान ने सीतामढ़ी का शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाया है. आज हम आपको बताते हैं एक सरकारी विद्यालय की व्यवस्था के बारे में जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

सीतामढ़ी के जिला मुख्यालय डुमरा के भासर गोट में स्थित यह राजकीय प्राथमिक विद्यालय है जो पिछले लंबे अरसे से फूस के मकान मे चल रहा है. शैक्षणिक कार्यकाल के दौरान यहा न तो कोई शिक्षक है और ना ही कोई छात्र.

ऐसा नहीं है कि यहा छात्रों की कमी है. इस विद्यालय में तकरीबन साढ़े चार सौ से ज्यादा छात्रो का नामांकन है जबकि चार शिक्षक पदस्थापित जिसमें से दो शिक्षक ट्रेनिंग को लेकर यहां से अनुपस्थित रहते हैं.

बेशक यहां पढ़ने वाले छात्र नजर नहीं आए लेकिन मवेशी क्लाश रुम मे जरुर दिखाई देंगे. स्थानीय लोगों के अनुसार इस विदेयालय के खुलने और बंद होने का कोई समय निर्धारित नहीं है.

सब काम शिक्षको के मर्जी पर निर्भर है जब स्कूल खुलेगा तब आस पास के बच्चे आ जाएंगे पढ़ने. ऐसे तो जो स्कूल की हालत है उसमे पुरा बरसात इस स्कुल के बच्चो की अघोषित छुट्टी रहती है.

फूस के मकान मे चल रहे इस स्कूल की बदहाल व्यवस्था पर किसी की नजर नहीं है.बताया जाता है कि इस स्कुल के पास अपनी जमीन नहीं और ना अपना भवन है.तो फिर क्यों नहीं सरकार के निर्देश के बाद भी इस स्कुल को पास के ही दूसरे विद्यालय में समायोजित किया गया. फिलहाल स्कूल के बदहाल व्यवस्था और उसके शैक्षणिक दुर्दशा पर स्थानीय लोग आक्रोशित रहते हैं शिक्षक का नहीं रहना भी लोगों के आक्रोश का कारण बना हुआ है. हालांकि अधिकारी इस मसले पर कार्रवाई की बात कहते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीतामढ़ी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2017, 11:00 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर