लाइव टीवी

सीतामढ़ी : बच्चों के बजाए गांव की बकरियां आती हैं स्कूल

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: June 15, 2017, 10:34 AM IST

सर्व शिक्षा अभियान पर करोड़ों अरबों रुपए खर्च करने के बाद भी बिहार की शिक्षा व्यवस्था पटरी पर नहीं आ रही है. इसी बीच सीतामढ़ी में एक अनोखा विद्यालय का पता चला है. जहां बच्चों के बजाए भैस और बकरिया आती हैं.

  • Share this:
सर्व शिक्षा अभियान पर करोड़ों अरबों रुपए खर्च करने के बाद भी बिहार की शिक्षा व्यवस्था पटरी पर नहीं आ रही है. शिक्षा व्यवस्था मे नए-नए स्कैम से बिहार की छवि भी काफी धूमिल हुई है. इसी बीच सीतामढ़ी में एक अनोखा विद्यालय का पता चला है. जहां बच्चों के बजाए भैंस और बकरियां आती हैं.

हम बात कर रहे हैं सीतामढ़ी के नक्सल प्रभावित रुन्नीसैदपुर प्रखंड के थुम्मा गांव मे बने स्कूल की जो अब बदहाली झेल रहा है. इस सरकारी स्कूल में अब बच्चे पढ़ने नहीं आते यहा बच्चों के बजाए गांव की भैंस बकरियां समेत दूसरे जानवर बांधे जाते हैं. तकरीबन 18 लाख की लागत से इस सरकारी स्कूल के भवन का निर्माण वर्ष 2008 मे हुआ था.यहा ढ़ाई सौ से ज्यादा बच्चों का नामांकन था लेकिन शिक्षा विभाग ने अचानक इस स्कूल को बंद कर दिया और इस स्कूल को पास के ही दूसरे सरकारी स्कूल मे मर्ज (समायोजित) कर दिया.

यहां के बच्चो को गांव मे स्कूल होने के बाद भी उनको दूसरे गांव मे पढ़ने के लिए जाना पड़ता है. शिक्षा विभाग के इस गलत फैसले को लेकर गांव के लोगो में आक्रोश है. दुसरी तरफ सरकार के लाखों रुपए से बनाया गया यह भवन भी अब बेकार पड़ा है.

बताया जाता है कि इस स्कूल में कार्यरत दो रसुख वाले शिक्षकों को खुश करने के लिए शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने यह गलत फैसला लिया है. स्कूल भवन खाली हो जाने की वजह से यह स्थान अब चोर उच्चकों के लिए सुरक्षित ठिकाना बन चुका है. इतना ही नहीं गांव के असमाजिक तत्व अब स्कूल के खिड़की दरवाजे तक को खोल कर यहां से ले जा रहे हैं. शिक्षा विभाग की उदासीनता के कारण अब यह स्कूल तबेले की शक्ल अख्तियार कर चुका है.

गांव वालो की मांग है कि जल्द से जल्द स्कुल को चालू कराया जाए. दूसरी ओर शिक्षा विभाग अपनी गलतियों को छुपाने में लगा है और इस मामले पर अब नियम कानून का हवाला दे रहे हैं हालांकि अधिकारी का कहना है कि अगर गांव वाले उनसे मांग करते है तो स्कूल को फिर से चालू करा दिया जाएगा. बिहार की शिक्षा व्यवस्था का हाल किसी से छुपा नहीं है. सीतामढ़ी में अधिकारी अपनी मनमानी को लेकर पूरी व्यवस्था का बंटाधार कर रहे हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीतामढ़ी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 15, 2017, 9:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर