ग्राउंड रिपोर्टः फायरिंग से पहले नेपाल पुलिस ने भारतीयों को दो बार खदेड़ा, फिर दनादन बरसा दीं 18 गोलियां! देखें Video
Patna News in Hindi

ग्राउंड रिपोर्टः फायरिंग से पहले नेपाल पुलिस ने भारतीयों को दो बार खदेड़ा, फिर दनादन बरसा दीं 18 गोलियां! देखें Video
नेपाली पुलिस की अंधाधुंध फायरिंग में एक भारतीय की मौत

Nepal Police Firing: बिहार के सीतामढ़ी में नेपाल से लगी सीमा पर फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत के बाद तनाव. सीतामढ़ी की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने एसपी और SSB को बॉर्डर के हालात पर नजर रखने का दिया निर्देश.

  • Share this:
पटना. बिहार के सीतामढ़ी के सोनबरसा में नेपाल बॉर्डर इलाके (Nepal Border Area) के जानकीनगर गांव के पास नेपाल पुलिस की अधाधुंध फायरिंग (Nepal Police Firing) में चार लोगों को गोली लगी. इनमें एक व्यक्ति की मौत हो गई. बताया जा रहा है कि जिन लोगों को गोली लगी है, उनमें से दो की हालत नाजुक है. उन्हें इलाज के लिए निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. जानकारी के अनुसार नेपाल पुलिस ने निहत्थे लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग की. इस घटना के बाद से सीमा पर तनाव की स्थिति बनी हुई है. SSB के डीजी राजेश चंद्र ने कहा क‍ि घटना नेपाल क्षेत्र के अंदर हुई है, अब स्थिति पूरी तरह सामान्य है. हालांकि दोनों ओर से बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात है.

इस मामले में जो जानकारी सामने आ रही है, उसके अनुसार नेपाल पुलिस की ओर से 18 राउंड फायरिंग की गई. इसमें जानकी नगर टोला लालबंदी निवासी नागेश्वर राय के 25 वर्षीय पुत्र विकेश कुमार की जान चली गई. वहीं, विनोद राम के पुत्र उमेश राम व सहोरवा निवासी बिंदेश्वर शर्मा के पुत्र उदय शर्मा घायल हैं. हालांकि यह भी बताया जा रहा है कि एक व्यक्ति को पुलिस ने अब भी बंधक बनाकर रखा है, जिसका नाम जानकीनगर निवासी लगन राय बताया जा रहा है. हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है.

सीतामढ़ी की डीएम अभिलाषा कुमारी शर्मा ने एसपी अनिल कुमार और एसएसबी के अधिकारियों को बॉर्डर के हालात पर नजर रखने को कहा है. मिली जानकारी के अनुसार घटना से पहले भी दो बार नेपाल पुलिस ने लोगों को खदेड़ा था. तीसरी बार भारतीयों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी.



फायरिंग से पहले हुआ विवाद
दरअसल, कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए अभी भारत-नेपाल बॉर्डर सील है. आवाजाही बंद होने के बावजूद सीतामढ़ी जिला निवासी लगन राय अपने पुत्र के साथ किसी महिला रिश्तेदार से मिलने बॉर्डर पार गए थे.

बिहार के सीतामढ़ी में भारत-नेपाल सीमा पर हुई गोलीबारी
बिहार के सीतामढ़ी में भारत-नेपाल सीमा पर हुई गोलीबारी के बाद मामले की जांच के लिए पहुंची पुलिस


इसी क्रम में नेपाल पुलिस उनको बॉर्डर से भगाना चाह रही थी. कहा जा रहा है कि पिता-पुत्र ने थोड़ी देर की मोहल्लत मांगी तो एपीएफ (नेपाल सशस्त्र प्रहरी बल) ने उनके लड़के पर लाठी चला दी. लगन राय को घसीटते हुए बॉर्डर से 100 मीटर दूर ले गई और उसके बाद उनको बंधक बना लिया.

ग्रामीणों की मानें तो नेपाल पुलिस की यह हरकत देखकर बॉर्डर पर क्रिकेट खेल रहे कुछ युवकों और खेतों में काम कर रहे लोगों ने इस कार्रवाई का विरोध किया. इसके बाद नेपाल पुलिस ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. हालांकि, नेपाल पुलिस की ओर से कहा जा रहा है कि उन्होंने अपनी सुरक्षा में फायरिंग की है. उनका आरोप है कि भारतीय उनकी बंदूक छीनना चाह रहे थे. नेपाल पुलिस उनको तस्कर भी बता रही है.

 



ये भी पढ़ें :-


JDU नेता बोले नीतीश कुमार का कमिटमेंट सलमान खान की फिल्म के डायलॉग जैसा, बिहार में मचा सियासी बवाल




India-Nepal border dispute: भाईचारे से रहने वाले भारत और नेपाल के बीच क्यों हुआ सीमा विवाद?

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज