'Shoot Out At Lokhandwala' देखकर बनना चाहता था गैंगस्टर, पॉकेट मनी से खरीदी पिस्टल, लेकिन...

सीतामढ़ी पुलिस ने पॉकेट मनी से खरीदी गई पिस्टल युवक  से बरामद की.

सीतामढ़ी पुलिस ने पॉकेट मनी से खरीदी गई पिस्टल युवक से बरामद की.

Shoot out at lokhandwala फिल्म में गैंगस्टर की जिन्दगी से प्रेरणा लेकर अपराध की दुनिया में नाम कमाने की चाहत में युवक ने पॉकेट मनी से पिस्टल खरीदी और कोचिंग संचालकों व व्यवसायियों से रंगदारी मांगी.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: December 19, 2020, 10:20 AM IST
  • Share this:
सीतामढ़ी. टीवी सीरियल और फिल्म देखकर अपराध की दुनिया में जाकर नाम, शोहरत और पैसा कमाने की चाहत सीतामढ़ी के एक युवक को भारी पड़ा. 'शूट आउट एट लोखंडवाला' फिल्म में गैंगस्टर की जिन्दगी से प्रेरणा लेकर अपराध की दुनिया में नाम कमाने की चाहत में अभिषेक उर्फ राजा आज कहीं का नहीं रहा. बता दें कि अभिषेक ने सीतामढ़ी के कुल 18 कोचिंग संचालकों और कई व्यवसायियों से पर्चा फेंक कर रंगदारी मांग की थी. अभिषेक के इस कारगुजारी से सीतामढ़ी शहर मेें हड़कंप की स्थिति बन गयी थी. पीड़ित परेशान थे.

रात के अंधेरे में अभिषेक ने रंगदारी मांगने के लिये कोचिंग संचालक और व्यवसासियों  के यहां पर्चा फेकना शुरू किया था. अभिषेक को यह लगा की उसकी करतूत कोई देख नहीं पाएगा. वह चुपके से अपराध को अंजाम देगा और उसे कोई पकड़ नहीं सकेगा, लेकिन सभी जानते हैं ऊपर वाला सब देख रहा है. जी हां! अभिषेक सीसीटटीवी कैमरे में दिख गया. पर्चा फेंकते उसकी तस्वीर सीसीटीवी कैमरे मे रिकार्ड हो गयी.  फिर क्या था पुलिस ने उसे धर दबोचा.

सीतामढ़ी के एसपी ने बताया कि अभिषेक टीवी फिल्मों का शौकीन था और वह अपराध की दुनिया में जाकर अपना नाम कमाना चाहता था. सीतामढ़ी के नामी-गिरामी क्रिमिनल का वह शागिर्द भी रह चुका था. अपराधियों से वह अपराध की ट्रेनिंग लेता था और उसी के जैसा बनने की कोशिश करता था. वह फिल्मों के गैंगस्टर के लाइफ स्टाइल से प्रेरित था.

पुलिस ने अभिषेक उर्फ राजा के पास से पिस्तौल और कारतूस भी बरामद किया है. यह पिस्टल अभिषेक अपनी पिछले कई महीनों से पॉकेट मनी बचाकर खरीदा था. पुलिस उस शख्स को भी तलाश रही है जिससे अभिषेक ने पिस्टल की खरीद की थी.
एसपी ने बताया कि अभिषेक पर आग्येनास्त्र रखने को लेकर अलग से मामला दर्ज किया जाएगा. गौरतलब है  कि सीतामढ़ी मे तीन दिन पहले कोचिंग संचालक और कुछ व्यवसासियों से पर्चा फेक कर रंगदारी की मांग की गयी थी. जि स मामले का उदभेदन करने के लिये सीतामढ़ी के एसपी ने एक स्पेशल टीम का गठन किया था. अभिषेक सीतामढ़ी के रींग बांध स्थित लक्ष्मणा नगर का निवासी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज