लाइव टीवी

सिपाही नियुक्ति परीक्षा में सेटिंग कराने वाले गिरोह का भंडाफोड़

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: October 23, 2017, 8:20 PM IST
सिपाही नियुक्ति परीक्षा में सेटिंग कराने वाले गिरोह का भंडाफोड़
सिपाही नियुक्ति परीक्षा में सेटिंग कराने वाले गिरोह का भंडाफोड़ (ईटीवी फोटो)

बिहार पुलिस में सिपाही की नियुक्ति के लिए रविवार को संपन्न लिखित परीक्षा में सेटिंग कर पास कराने वाले एक हाईटेक गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है.

  • Share this:
बिहार पुलिस में सिपाही की नियुक्ति के लिए रविवार को संपन्न लिखित परीक्षा में सेटिंग कर पास कराने वाले एक हाईटेक गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है. इस गिरोह के नेटवर्क राज्य के कई जिलों में फैले हुए हैं. गिरोह के मिडिलमैन और सेटिंग में संलिप्त परीक्षार्थियों समेत कुल 36 आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं.

सारण पुलिस ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए पूरे नेटवर्क को पकड़ा है. सारण में पहली बार इस तरह हाईटेक सेटिंग कराने वाले गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है. सारण पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने बताया कि यह गिरोह सेटिंग में हाईटेक तरीके जैसे ब्लूटूथ के सहारे नकल कराता था. उन्होंने बताया कि इस गिरोह का नेटवर्क बहुत बड़ा है और इसके सरगना की पहचान कर ली गई है और उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है.

ब्लूटूथ लगी बनियान का करते थे प्रयोग
सिपाही भर्ती परीक्षा में सेटिंग कराने वाला गिरोह परीक्षार्थियों को एक ऐसा बनियान देता था जिसमें बेल्ट के पास ब्लूटूथ सिला होता था. उसका माईक्रो स्पीकर परीक्षार्थियों के कान के अंदर डाल दिया जाता था. उस स्पीकर के माध्यम से प्रश्नों के उत्तर परीक्षार्थी प्राप्त कर लेते थे. एक परीक्षार्थी के पास से ब्लूटूथ लगी बनियान बरामद किया गया है.

व्हाट्सऐप से भी उपलब्ध कराया जाता था उत्तर
परीक्षार्थियों को व्हाट्सऐप के माध्यम से भी गिरोह के लोग उत्तर उपलब्ध कराते थे, जिन परीक्षार्थियों से पैसे लिए गए थे, उनको उत्तर उपलब्ध कराए जाते थे.

5 लाख में होती थी सेटिंग
Loading...

गिरोह के लोग लिखित परीक्षा पास कराने के लिए प्रत्येक परीक्षार्थी से 5 लाख रुपए की रकम लेते थे. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि लिखित परीक्षा पास कराने का सौदा 5 लाख में तय होता था. गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि परीक्षा से पहले 30-40 हजार लिया जाता था और बांकि पैसे परीक्षा पास करने के बाद ली जाती.

मुख्य आरोपी सोनपुर थाना क्षेत्र के देवनाथ राय के पास से परीक्षार्थियों के एडमिट कार्ड की प्रतिलिपि और  मूल प्रमाण पत्र बरामद किए गए हैं. गिरोह के सदस्यों और परीक्षार्थियों समेत कुल 36 लोग गिरफ्तार कर लिए गए हैं. गिरफ्तारियां सारण समेत सीवान, गोपालगंज, सीतामढ़ी, सासाराम और मोतिहारी से हुई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीवान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2017, 8:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...