सीवान जेल: एक नाम के दो कैदी, एक को मिली बेल पर दूसरा रिहा

खबर मीडिया में आने के बाद अब जेल प्रशासन के सामने चुनौती है कि वह जल्द से जल्द फरार गुल मोहम्मद को पकड़ जेल में बंद करे और जमानत पाए गुल मोहम्मद को रिहा करे.

News18 Bihar
Updated: July 30, 2019, 4:40 PM IST
सीवान जेल: एक नाम के दो कैदी, एक को मिली बेल पर दूसरा रिहा
बिहार की सीवान जेल में एक ही नाम के दो कैदी बंद थे. इसमें से एक को जमानत मिली और जेल प्रशासन ने दूसरे को छोड़ दिया है.
News18 Bihar
Updated: July 30, 2019, 4:40 PM IST
बिहार की सीवान जेल में एक ही नाम के दो कैदी बंद थे. इसमें से एक को जमानत मिली और जेल प्रशासन ने दूसरे को छोड़ दिया है. खबर सामने आने के बाद जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया. जेल प्रशासन ने रिहा कैदी को तलाश करने की कवायद शुरू कर दी है.

दोनों का नाम गुल मोहम्मद
दरअसल जेल में गुल मोहम्मद नाम के दो कैदी बंद थे. रिलीज ऑर्डर आने पर जेल ने गुल मोहम्मद नाम के दूसरे कैदी को रिहा कर दिया. रिहा किया गया गुल मोहम्मद डकैती कांड में गिरफ्तार किया गया था. जेल से रिहा किए जाने के बाद ही वो फरार हो गया है. अब जेल प्रशासन को भी उसे ढूंढने में पसीने आ रहे हैं.

जिसे मिली बेल वो अब भी जेल में बंद

वास्तविकता में जमानत मिली थी असांव थाना क्षेत्र के सहसरांव निवासी गुल मोहम्मद को. वो अभी तक जेल में बंद हैं. जेल प्रशासन की लापरवाही की वजह से गुल मोहम्मद अब भी जेल में रहने को बाध्य है. हालांकि जेल में बंद गुल मोहम्मद के वकील एमए खान के मुताबिक,' जेल प्रशासन द्वारा जानबूझकर इस घटना को अंजाम नहीं दिया गया है. यह लिपिकीय त्रुटि है.' इसे स्लिप ऑफ पेन भी कहा जा सकता है.



खबर मीडिया में आने के बाद अब जेल प्रशासन के सामने चुनौती है कि वह जल्द से जल्द फरार गुल मोहम्मद को पकड़ कर जेल में बंद करे और जमानत पाए गुल मोहम्मद को रिहा करे.
Loading...

ये भी पढ़ें:

बिहार में चल रहा था 'पाकिस्तान जिंदाबाद' वाट्सऐप ग्रुप, देश के खिलाफ उगला जाता था जहर

ट्रिपल तलाक बिल पर JDU का विरोध जारी, बोली- ऐसे मुद्दों पर आम सहमति की जरूरत
First published: July 30, 2019, 4:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...