शर्मनाक: स्वास्थ्य मंत्री के जिले में एंबुलेंस नहीं मिली तो बेटा अपने पिता को ठेले पर लेकर चल पड़ा इलाज कराने

बिहार के सीवान जिले में एक शर्मनाक तस्वीर सामने आई है, जिसमें बेटा ठेले पर अपने पिता को इलाज कराने जा रहा है.

बिहार के सीवान जिले में एक शर्मनाक तस्वीर सामने आई है, जिसमें बेटा ठेले पर अपने पिता को इलाज कराने जा रहा है.

Siwan News: बिहार के सीवान जिले में एक मरीज को अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिला तो मजबूर बेटा अपने पिता को ठेले पर लेकर इलाज कराने निकल पड़ा.

  • Last Updated: May 19, 2021, 11:53 PM IST
  • Share this:

मृत्युंजय सिंह, सीवान. बिहार के सीवान के मैरवा से एक शर्मसार करने वाली तस्वीर सामने आई है. मामला मैरवा प्रखंड का है, जहां एम्बुलेंस के अभाव में बेटा अपने पिता को ठेले पर लेकर इलाज कराने अस्पताल ले जाना पड़ा. ये तस्वीर सिस्टम पर एक बड़ा सवाल खड़ा करती है, साथ ही स्वास्थ्य विभाग की हकीकत को बयां करती है. स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिले में ऐसी तस्वीर जो शर्मसार कर रही है. बिहार के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार कितना भी मीटिंग कर ले, आदेश दे लें लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और है.

मैरवा का ये वीडियो प्रखण्ड के रहने वाले कौशल किशोर पाल का है, जिसे एम्बुलेंस या कोई संसाधन नही मिला तो अपने पिता को इलाज कराने ठेले पर निकल पड़े. इस तरह स्वास्थ्य विभाग के व्यवस्था पर सवाल खड़ा हो रहा है. तस्वीर मानवता को शर्मसार कर रही है. जहां एंबुलेंस के अभाव में परिजन मरीज को ठेले पर लादकर अस्पताल इलाज कराने के लिये ले जाना पड़ा. इसे देखकर लोग आक्रोशित हैं, कोरोना काल में लोगों की सहायता बिहार सरकार कर रही है. ऐसे ही लोगों की क्या जान बचा पाएगी. मैरवा थाना क्षेत्र के सिसवा खुर्द गांव से ठेले पर लादकर अपने पिता को  इलाज कराने के लिए अस्पताल उसके बेटे ले जा रहा था.

बेटे द्वारा कई बार एम्बुलेंस के लिए कॉल किया गया, लेकिन स्वास्थ्य विभाग में कोई रिप्लाई नहीं मिला. और अंत में मजबूर होकर बेटा अपने पिता को ठेले पर लादकर अस्पताल चल पड़ा. सीवान सदर अस्पताल के सीएमओ डॉ. एमआर रंजन ने बताया कि इस तरह की बातें सामने आई हैं. जांच किया जा रहा है, ये व्यक्ति क्यों ठेले पर अपने पिता को इलाज कराने के लिए ले जा रहा था. क्या उन्होंने एंबुलेंस वाले को कॉल किया था या नहीं. अगर कॉल किया था तो किस नंबर पर कॉल किया था. इसकी जानकारी की जाएगी. अगर इसमें कोई दोषी पाया जाता है तो उस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज