Bihar Assembly Election 2020: महाराजगंज में क्या JDU अपनी पकड़ बरकरार रख पायेगी, BJP दे रही है चुनौती

वर्ष 2015 में यहां बीजेपी  मजबूती से उभरी है.
वर्ष 2015 में यहां बीजेपी मजबूती से उभरी है.

Bihar Assembly Election 2020: जदयू के दबदबे वाली सीवान जिले की महाराजगंज (Maharajganj) विधानसभा सीट पर इस बार सबकी नजरें टिकी हैं. यहां गत 15 साल से जदयू (JDU) काबिज है.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 22, 2020, 9:45 PM IST
  • Share this:
सीवान. जिले में जदयू के कब्जे वाली महाराजगंज (Maharajganj)  विधानसभा सीट पर इस बार सबकी नजरें टिकी है. गत 15 साल से यह यह सीट जदयू (JDU) के कब्जे में है. गत बार 20 हजार से ज्यादा वोटों से पीछे रहने वाली बीजेपी (BJP) इस बार इस सीट पर काबिज होने के लिये आतुर है. वर्तमान में जदयू के हेम नारायण शाह यहां से विधायक हैं. इससे पहले भी वर्ष 2010 और 2005 में भी यहां जदयू ने कब्जा जमाया था. पिछले तीन विधानसभा चुनावों में यहां जदयू ने दो बार राजद और एक बार बीजेपी को पटखनी दी है. इस बार फिर यहां जदयू की कब्जा बरकरार रखने और बीजेपी और राजद (RJD) इस सीट को छीनने की जुगत भिड़ा रही है.

Bihar Assembly Election: मोदी या नीतीश? चेहरे पर NDA में ये कैसा कन्फ्यूजन

दबदबे के बावजूद जदयू का जीत अंतर कम हुआ
महाराजगंज विधानसभा सीट पर भले ही जदयू काबिज है, लेकिन वर्ष 2010 के मुकाबले 2015 में यहां बीजेपी मजबूती से उभरी है. महाराजंग सीट पर जदयू ने वर्ष 2010 में राजद को 20 हजार मतों स मात दी थी. जदयू ने यहां राजद के मुकाबले 18.1 फीसदी ज्यादा मत प्राप्त किये थे. लेकिन वर्ष 2015 के चुनाव में यहां जदयू ने भले ही अपनी पकड़ और मजबूत की हो, लेकिन उसी मजबूती के साथ बीजेपी ने भी उसका पीछा किया. लिहाजा वर्ष 2010 के मुकाबले डेढ़ गुना वोट लेकर भी जदयू वैसी परफोर्मेंस नहीं दिखा पाई।. गत चुनाव में 86459 वोट लेकर भी जदयू की जीत का मत प्रतिशत घट गया. इस चुनाव में वह अपने प्रतिद्वंदी से केवल 13.64 फीसदी मत ही ज्यादा ले पाई. लिहाजा इस बार उसे ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है.
जाले विधानसभा सीट: बीजेपी के पास जीत की हैट्रिक लगाने का मौका, लेकिन सता रहा है ये 'डर'



2000 से इस सीट पर ये दल रहे काबिज
2000 - उमाशंकर सिंह (एसएपी) ने कांग्रेस के दामोदर सिंह को 35956 मतों से हराया. जीत का अंतर 31.24 फीसदी रहा.
2005 - दामोदर सिंह (जदयू) ने राजद के उमाशंकर सिंह को 12966 मतों से हराया. जीत का अंतर 14.97 फीसदी रहा.
2010 - दामोदर सिंह (जदयू) ने राजद के मानिक चंद राय को 2000 मतों से हराया. जीत का अंतर 18.01 फीसदी रहा.
2015 - हरिनारायण शाह (जदयू )  ने बीजेपी के कुमार देव रंजन सिंह को 20292 मतों से हराया. जीत का अंतर 13. 64 फीसदी रहा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज