बीजेपी का दामन छोड़ कांग्रेस का 'हाथ' थाम सकते हैं देव रंजन सिंह

अखिलेश सिंह ने कहा कि अगर देव रंजन हमारी पार्टी में आना चाहते हैं तो इनका स्वागत है. वो अच्छी छवि के व्यक्ति हैं. अगर वो हमारी पार्टी में आएंगे तो हमारी पार्टी सीवान में मजबूत होगी.

News18 Bihar
Updated: October 12, 2018, 11:47 PM IST
News18 Bihar
Updated: October 12, 2018, 11:47 PM IST
चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है वैसे वैसे सीवान में सरगर्मी तेज होती जा रही है. शुक्रवार को सीवान में बिहार कांग्रेस अभियान समिति के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने सीवान पहुंचे. 21 अक्टूबर को बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिन्हा की जयंती है, जिसे सफल बनाने के लिए सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह सिवान पहुंचे थे. वहीं सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने महाराजगंज से बीजेपी के पूर्व विधायक देव रंजन सिंह से मुलाकात की. इनकी मुलाकात को लेकर शहर में तरह-तरह की चर्चा हैं.

इस मुलाकात को लोग यह मान रहे हैं कि डॉक्टर देवरंजन कभी भी कांग्रेसी पार्टी में जा सकते हैं. लेकिन डॉक्टर देव रंजन ने इस मुलाकात को सिर्फ मुलाकात बताया. वहीं अखिलेश सिंह ने कहा कि अगर देव रंजन हमारी पार्टी में आना चाहते हैं तो इनका स्वागत है. वो अच्छी छवि के व्यक्ति हैं. अगर वो हमारी पार्टी में आएंगे तो हमारी पार्टी सीवान में मजबूत होगी.

गुजरात में बिहारियों पर हो रहे अत्याचार के मामले पर अखिलेश प्रसाद ने कहा कि अगर वहां पर हमारी पार्टी के विधायक हिंसा भड़कने के बाद बिहारियों पर अत्याचार करने के मामले में अगर दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें फांसी पर लटका दिया जाए. अखिलेश प्रसाद सिंह ने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य में उन्हीं की पार्टी की सरकार है. तो 40 हजार बिहारी गुजरात से पलायन कैसे कर गए. गुजरात में बिहारियों पर अत्याचार हो रहा है और सरकार चुप बैठी हैं.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर