Home /News /bihar /

टैक्‍स बढ़ने के विरोध में हड़ताल करेंगे वाहन चालक!

टैक्‍स बढ़ने के विरोध में हड़ताल करेंगे वाहन चालक!

सीवान के नगर परिषद ने वित्तीय वर्ष 2015-16 के लिए शहर के बस स्टैंड से संचालित वाहनों पर ढाई गुणा कर बढ़ गया है. इसके विरोध में वाहन चालकों ने हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है.

सीवान के नगर परिषद ने वित्तीय वर्ष 2015-16 के लिए शहर के बस स्टैंड से संचालित वाहनों पर ढाई गुणा कर बढ़ गया है. इसके विरोध में वाहन चालकों ने हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है.

सीवान के नगर परिषद ने वित्तीय वर्ष 2015-16 के लिए शहर के बस स्टैंड से संचालित वाहनों पर ढाई गुणा कर बढ़ गया है. इसके विरोध में वाहन चालकों ने हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है.

    सीवान के नगर परिषद ने वित्तीय वर्ष 2015-16 के लिए शहर के बस स्टैंड से संचालित वाहनों पर ढाई गुणा कर बढ़ गया है. इसके विरोध में वाहन चालकों ने हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है.

    नगर परिषद ने शहर के एकलौते बस स्टैंड ललित बस स्टैंड का टैक्स इस वित्तीय वर्ष में बढ़ाकर ढाई गुणा ज्यादा कर दिया है. पिछले वर्ष जहां ललित बस स्टैंड से खुलने वाली बसो और अन्य बड़ी सवारी गाड़ियों से 40 रुपया टैक्स लिया जाता था. इस बार उस रकम को बढ़ाकर प्रति वाहन 100 रुपए कर दिया गया है. एक अप्रैल 2015 से लागू टैक्स में इस बढ़ोतरी से वाहन मालिक सकते में हैं और अचानक से बढ़े टैक्स को अदा करने में असमर्थता जता रहे हैं.

    कर दर में इस बेहिसाब बढ़ोतरी के खिलाफ सीवान जिला वाहन एसोसिएशन ने नगर परिषद के सभापति बबलू चौहान और कार्यपालक पदाधिकारी से मुलाकात कर टैक्स राशि को घटाने की अपील भी की, लेकिन नगर परिषद इसके लिए तैयार नहीं हुआ.

    नगर परिषद का कहना है कि टैक्स में यह बढ़ोत्‍तरी पिछले 15 साल के बाद की गई है. वाहन मालिकों का कहना है कि अगर नगर परिषद बढ़े टैक्स रेट को कम नहीं करेगा तो वह अपनी गाड़ियां चलाना बंद कर देगें.

    सीवान बस स्टैंड से रोजाना करीब सात सौ गाड़िया खुलती हैं. इस हिसाब से विगत 31 मार्च तक एक दिन में जहां 28 हजार रुपए की वसूली होती थी, जबकि एक अप्रैल से लागू नए टैक्स के अनुसार वसूली की राशि 70 हजार रुपए हो गयी है.

    वहीं नगर परिषद के टेंडर की राशि में कोई परिवत्र्तन नहीं हुआ है जबकि बढ़े टैक्स रेट के अनुसार नगर परिषद द्वारा बस स्टैंड के टेंडर की राशि भी नियम के अनुसार डेढ़ करोड़ से बढ़कर साढ़े तीन करोड़ रुपए होनी चाहिए. ऐसे में केवल टैक्स रेट में वृद्धि करना सीवान नगर परिषद को सवालों के घेरे में खड़ा कर रहा है.

    आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर