लाइव टीवी

बोले CM नीतीश- सीवान में खुलेगा मेडिकल कॉलेज, शराबबंदी से नहीं होगा कोई समझौता

News18 Bihar
Updated: December 5, 2019, 3:56 PM IST

मुख्यमंत्री ने कहा कि मौसम में बदलाव के कारण हमने जल-जीवन-हरियाली अभियान शुरू किया गया है. बारिश की स्थिति लगातार बदल रही है. भूजल स्तर की लगातार जांच कराते हैं. अभियान के तहत 11 काम किये जा रहे हैं. सार्वजनिक भवनों की छत पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग करवा रहे हैं.

  • Share this:
सीवान. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) जल जीवन हरियाली (Jal Jeevan Hariyali Yatra)यात्रा के तीसरे दिन सीवान पहुंचे. यहां उन्होंने 324 करोड़ की लागत के 354 योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया. इस दौरान उन्होंने भगवानपुर हाट (Bhagwanpur Hat)में एक जनसभा को संबोधित करते जलवायु परिवर्तन (Climate Change) की गंभीरता को बताते हुए पर्यावरण संरक्षण की जरूरत बताई. इस मौके पर उन्होंने सीवान में मेडिकल कॉलेज खोलने की बात कही और ये भी कहा कि शराबबंदी से कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

सभी टोलों को सड़क से जोड़ा जाएगा
इस मौके पर सीएम ने कहा कि काम करने का मौका मिला तो हमने सेवा की. जो तबका उपेक्षित था उसको मुख्यधारा में लाए. हमारी सरकार ने एक नहीं अनेक काम किए हैं. हम लोगों का लक्ष्य हर गांव को पक्की सड़क से जोड़ने का है और इसका काम अंतिम चरण में है. टोलों को सड़कों से जोड़ने का काम भी हो रहा है.

6 हजार नए स्कूल खोले गए

उन्होंने कहा कि बिहार में शिक्षा की स्थिति खराब थी तो नए स्कूल बनाए गए. टोला सेवक और तालीमी मरकज से शिक्षा के क्षेत्र में काम हुआ. अब हाइस्कूल में लड़के और लड़कियों की संख्या बराबर है. महिलाओं की शिक्षा पर जोर दिया जा रहा है. 6 हजार नए स्कूल खोले गए हैं जहां स्कूल नहीं वहां भी बनाएंगे.

शराबबंदी से कोई समझौता नहीं
उन्होंने कहा कि हमारी आबादी लगातार बढ़ती जा रही है. बिहार की आबादी राष्ट्रीय औसत से 3 गुना ज्यादा है. हमने 7 निश्चय योजना के कई लक्ष्य को पूरा किया. जहां महिलाएं शिक्षित हैं तो वहां प्रजनन दर कम है.  उन्होंने कहा कि किसी भी हाल में  शराबबंदी से कभी कोई समझौता नहीं करेंगे.सीवान में बनेगा मेडिकल कॉलेज
सीएम ने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य के क्षेत्र में हमने बहुत काम किया. हमने हर प्रकार से बिहार के विकास के लिए काम किया.  2020 के विधानसभा चुनाव से पहले हर घर नल का जल पहुंच जाएगा. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत काम हुआ है. हर महीने एक पीएचसी में 10 हजार से ज्यादा लोग इलाज करा रहे हैं.  मेडिकल कॉलेज का निर्माण कराया जा रहा है.

भूजल स्तर बरकरार रखने की कोशिश
मुख्यमंत्री ने कहा कि मौसम में बदलाव के कारण हमने जल-जीवन-हरियाली अभियान शुरू किया गया है. बारिश की स्थिति लगातार बदल रही है. भूजल स्तर की लगातार जांच कराते हैं. अभियान के तहत 11 काम किये जा रहे हैं. सार्वजनिक भवनों की छत पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग करवा रहे हैं. भूजल के स्तर को कायम रखने के लिए योजना चला रहे हैं.

पौधारोपण का अभियान चल रहा है
सीएम नीतीश ने कहा कि बड़े पैमाने पर पौधरोपण करवाया जा रहा है. 2012 में हमने हरियाली मिशन शुरू किया था जिसमें 19 करोड़ पेड़ लगे. इस साल 1.40 करोड़ पौधे लगाए गए. पेड़ रहेगा तभी ऑक्सीजन मिलेगा. मौसम के हिसाब से खेती के लिए 8 जिलों में पायलट प्रोजेक्ट चल रहा है.

सोलर एनर्जी पर जोर दें
मुख्यमंत्री ने कहा कि सौर ऊर्जा ही असली ऊर्जा है जो अनंतकाल तक रहेगी. कोयला सीमित मात्रा में है जो आनेवाले दिनों में खत्म हो जाएगा. आज हमने चौर में काम देखा है यही एक मॉडल बनेगा. 2504 एकड़ की जगह चौर का इलाका है ये सिर्फ भगवानपुर में हो रहा है. ये आनेवाले समय मे एक मॉडल बनेगा.

चौर इलाके को विकसित किया जाएगा
सीएम नीतीश ने कहा बिहार में चौर का इलाका 8 लाख एकड़ से ज्यादा है. सार्वजनिक चौर के इलाके में सीवान का प्रयोग शुरू कराएं. नए और बड़े पोखर बनाए जाएंगे. ऊर्जा विभाग ने बहुत अच्छा काम किया हम बधाई देते हैं. पोखर से सोलर प्लांट लगाएं नीचे मछली ऊपर बिजली. आप जो बिजली का उत्पादन करेंगे, उसे राज्य सरकार खरीद लेगी.

सीएम ने कहा कि बिल गेट्स स्वास्थ्य और कृषि के क्षेत्र में सहयोग करते हैं. दुनिया के सबसे धनी आदमी हैं और चार साल के बाद बिहार आये थे. उन्होंने दिल्ली जाकर जल-जीवन-हरियाली अभियान की तारीफ की.

इनपुट- अमित कुमार सिंह

ये भी पढ़ें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सीवान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2019, 3:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर