लाइव टीवी

सुपौल रेपकांड के खिलाफ उभरा लोगों का गुस्सा, आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग

News18 Bihar
Updated: October 7, 2018, 9:04 AM IST
सुपौल रेपकांड के खिलाफ उभरा लोगों का गुस्सा, आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग
प्रतीकात्मक फोटो

सुपौल में रेप की शिकार होने के बाद एक नाबालिग लड़की गर्भवती हो गई जिसने पिछले हफ्ते बेटी को जन्म दिया. इससे पहले तक सुपौल के लोग शायद इस घटना को भूल चुके थे, लेकिन नाबालिग पीड़िता के मां बनने की खबर के बाद लोग सड़कों पर उतर आए. रविवार को सामाजिक संगठनों ने इस मामले में स्पीडी ट्रायल चलाकर आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की.

  • Share this:
सुपौल में रेप की शिकार होने के बाद एक नाबालिग लड़की गर्भवती हो गई जिसने पिछले हफ्ते बेटी को जन्म दिया. इससे पहले तक सुपौल के लोग शायद इस घटना को भूल चुके थे, लेकिन नाबालिग पीड़िता के मां बनने की खबर के बाद लोग सड़कों पर उतर आए. रविवार को सामाजिक संगठनों ने इस मामले में स्पीडी ट्रायल चलाकर आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की.

सुपौल के पिपरा थाना इलाके में एक अधेड़ उम्र के शख्स ने नाबालिग के छोटे भाई की हत्या कर देने की धमकी देकर उसके साथ  दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था जिसके बाद नाबालिग  गर्भवती हो गई थी.  आरोपी जेल में बंद है.

प्रदर्शन कर रही महिलाओं ने डीएम के माध्यम से सरकार से मांग की है कि रेप पीड़िता के बच्चे और उसकी देखभाल के लिए सरकार और जिला प्रशासन को सामने आना चाहिए. दरअसल रेप पीङ़िता की पारिवारिक स्थिति काफी दयनिय है .वहीं रेप पीङिता अपनी बच्चे को साथ रखना चाहती है ताकि उसका जीवन उस बच्चे के सहारे चल सके.

हालांकि पीड़ित परिवार को अब तक किसी संगठन ने कोई आर्थिक मदद नहीं पहुंचाई है.  सरकार और प्रशासन भी मामले मे चुप है.

इससे पहले चार अक्टूबर को मां बनने के बाद सुपौल सदर अस्पताल में अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई थी. बच्ची को जन्म देते ही बाल संरक्षण इकाई के अधिकारियों ने बच्ची की बेहतर परवरिश के लिए सरकारी संरक्षण में देने को कहा लेकिन मां का दिल नहीं माना. रेप के बाद गांव में शर्मिंदगी की जिंदगी जी रही पीड़िता ने बच्ची को अपने साथ रखने की जिद की. उसके घर वालों ने भी साथ दिया और आखिरकार उसकी जीत हुई.

मामले में दखल दिया सुपौल महिला थाने की प्रभारी प्रेम लता ने. उन्होंने चाइल्ड वेलफेयर कमेटी से बात की और बताया कि अदालत के आदेश के मुताबिक ही कोई कदम उठाया जा सकता है और तब तक रेप पीड़िता के पास ही बच्ची रहेगी.

(अमित झा की रिपोर्ट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुपौल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 7, 2018, 9:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...