अपना शहर चुनें

States

सुपौल में बैंक जा रहे फाइनेंस कर्मी को गोली मारकर लूटे 9 लाख रूपए, मौके पर हुई

बिहार के सुपौल में लूट के दौरान फाइनेंस कर्मी की हत्या
बिहार के सुपौल में लूट के दौरान फाइनेंस कर्मी की हत्या

Supaul News: बिहार के सुपौल में हुई हत्या की इस घटना के बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी है. मृतक की पहचान उसके पास मिले आधार कार्ड और कागजात के आधार पर हुई.

  • Share this:
सुपौल. बिहार के सुपौल जिले में अपराधियों ने लूट के दौरान हत्या (Murder) की घटना को अंजाम दिया है. मामला राघोपुर थाना क्षेत्र के राघोपुर पंचायत अंतर्गत गद्दी चौक से जुड़ा है जहां हुलास राघोपुर पथ पर दिनदहाड़े अज्ञात बाइक सवार अपराधियों ने एक व्यक्ति को गोली मारकर 9 लाख रुपये लूट लिए. गोली लगने से शख्स की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. जानकारी के अनुसार युवक अपनी बाइक से सिमराही बैंक में पैसा जमा करने जा रहा था, इसी बीच गद्दी चौक से लगभग 200 मीटर पश्चिम अपराधियों ने उसका बैग छीन लिया और उसे गोली मार दी.

सीने में मारी गोली

घटना के बाद स्थानीय लोगों ने घायल व्यक्ति को एक ऑटो से रेफरल अस्पताल राघोपुर पहुंचाया, जहां देखते ही डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. डॉक्टरों ने बताया कि गोली सीने में लगने के कारण तुरंत इसकी मौत हो गई. घटना की सूचना मिलने पर राघोपुर पुलिस भी घटनास्थल और अस्पताल पहुंची साथ ही मामले की छानबीन में जुट गई.




बकरी चरा रहे लोग हैं चश्मदीद

घटना के बाबत बगल के खेतों में बकरी चरा रहे कुछ बच्चों ने बताया कि वो लोग सड़क किनारे खेत में बकरी चरा रहे थे, इसी बीच गोली की आवाज सुनकर उनलोगों का ध्यान जब सड़क की ओर गया तो देखा कि चार आदमी सड़क किनारे उस व्यक्ति को गोली मार कर उससे बैग लूट लिए. इसके बाद वहां लगी दो लाल रंग की मोटरसाइकिल पर बैठकर गद्दी चौक की ओर अपराधी चले गए. कुछ अन्य प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि चारों अपराधियों ने पहले उसे गाड़ी से उतारा. गाड़ी से उतारने के बाद उसे घसीटते हुए सड़क किनारे गड्ढे में लेकर गया और उसे गोली मारकर उसके पास मौजूद पैसे से भरा एक काला रंग का बैग लेकर फरार हो गये.

कैश लेकर जा रहा था युवक

जांच में जुटी पुलिस पुलिस ने अस्पताल परिसर में जब मृतक का तलाशी लिया तो उसके पर्स से एक आधार कार्ड, एक आईडी कार्ड व एक मोबाइल फोन बरामद हुआ जिसके आधार पर पता चला कि मृतक त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के पुरणदाहा गांव निवासी छेदी यादव का 45 वर्षीय पुत्र अजय कुमार है जो सिमराही में रेडिएंट नामक किसी माइक्रोफाइनांस कंपनी में कैश ट्रांसफर का काम करता है. कंपनी में अजय का काम पैसे वसूल कर बैंक में जमा करने का था.

मामले की जांच में जुटी पुलिस

अजय पैसे जमा करने बैंक ऑफ इंडिया राधानगर जा रहा था, इसी बीच अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया. सूचना मिलने के बाद परिजनों ने अस्पताल पहुंचकर देखा कि अजय कुमार की मौत हो गई है. फिलहाल स्थानीय पुलिस इस घटना की पड़ताल में लगी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज