बिहार पुलिस की बड़ी कार्रवाई, नेपाल के भूमिगत संगठन का सैन्य कमांडर आरके यादव गिरफ्तार

नेपाल के भूमिगत संगठन के सैन्य कमांडर आरके यादव सहित 3 अंतराष्ट्रीय अपराधियों को गिरफ्तार किया है.

Bihar News: इंटरपोल की सूचना पर बिहार की सुपौल पुलिस ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए नेपाल के भूमिगत संगठन के सैन्य कमांडर आरके यादव को गिरफ्तार कर लिया है. नेपाल में सिरहा के सोमनाथ यादव अपहरण मामले में गिरफ्तार किया गया है, इसमें 1.5 करोड़ की फिरौती मांगी गई थी.

  • Share this:
सुपौल. बिहार की सुपौल पुलिस ने बड़े अंतरराष्ट्रीय गिरोह का खुलासा करते हुए नेपाल (Nepal) के भूमिगत संगठन के सैन्य कमांडर आरके यादव (RK Yadav) सहित 3 अंतराष्ट्रीय अपराधियों को गिरफ्तार किया है. इंटरपोल (Interpol) और अपराध अनुसंधान विभाग बिहार की सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए सुपौल एसपी मनोज कुमार द्वारा गठित SIT ने इन तीनों अपराधियों को निर्मली थाना ईलाके के महुआ गांव गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरके यादव पूर्व में माओवादी संगठन से भी जुड़ा रहा है. अभी नेपाल भूमिगत संगठन नाम से अपना संगठन चला रहा था. गिरफ्तार आरके यादव पर नेपाल सहित भारत में भी हत्या, लूट जैसी दर्जनों संगीन मामले दर्ज हैं. कई सालों नेपाल पुलिस इसे गिरफ्तार करना चाह रही थी, लेकिन एक दशक बाद सुपौल पुलिस को यह सफलता हाथ लगी.

आखिर कैसे हुए गिरफ्तारी

नेपाल के सीरहा जिले के झिझोल गांव के रहने वाले समोनाथ यादव का अपरहरण नेपाल के बैरियापट्टी गांव से आरके यादव उर्फ माओवादी और उमेश यादव ने मिलकर कर लिया. जिसके बाद उसके परिजनों से 1.5 करोड़ की फिरौती की मांग की जाने लगी. इसी दौरान नेपाल पुलिस को जानकारी मिली की अपहृत सोमनाथ को इन अपराधियों ने भारत के सुपौल जिले में कहीं छुपा कर रखा है. जिसके इंटरपोल नई दिल्ली द्वारा जारी रेड कार्नर नोटिस के बाद सुपौल एसपी मनोज कुमार को मामले की पूरी जानकारी दी गई. इसी दौरान नेपाल पुलिस ने भी सुपौल पुलिस से इस कुख्यात को गिरफ्तार करने में मदद मांगी. जिसके बाद एसपी मनोज कुमार द्वारा एएसपी रामानंद सिंह कौशल के नेतृत्व में एसआईटी का गठन कर खुद मामले पर नजर रखना शुरू कर दिया.

इसी दौरान एसआईटी को जानाकरी मिली की अपरहण के बाद सोमनाथ यादव को रोज ठिकाने बदल बदल कर सुपौल और मधुबनी जिले के कुछ स्थानों पर रखा जा रहा है. पुलिस को एक सूचना मिली कि निर्मली के महुआ गांव में उमेश यादव के घर में रखा गया है. जिसके अपहृत के पिता हरि नारायण यादव के बयान पर निर्मली थाना में भी एक मामला दर्ज कर लिया गया. इस अपहरण में शामिल मधुबनी जिले के रहने वाले सतीश यादव को गिरफ्तार कर लिया गया.

सोमनाथ की पहले ही कर दी गई हत्या 

मामले में गिरफ्तार सतीश यादव ने पुलिस पूछताछ में हत्या की बात कबूलते हुए बताया कि सोमनाथ की हत्या कर शव को कोसी नदी में फेंक दिया गया है. जिसके बाद गोताखोर की मदद से उस स्थान पर पुलिस के द्वारा खोजबीन की गई, लेकिन कोसी नदी में पानी अधिक होने की वजह से शव का पता नही चल सका. जिसके बाद पुलिस ने अपनी जांच को जारी रखते हुए अपहृत का मोबाइल आरके यादव के ससुराल से बरामद किया गया. आरके यादव के नेपाल सिरहा स्थित घर पर भी पुलिस ने लगातार छापेमारी की, लेकिन आरके यादव का कुछ पता नही चल सका.

आरके यादव हरियाणा में छिपा था 

सुपौल और नेपाल पुलिस जब आरके यादव को खोज रही थी, तब आरके यादव हरियाणा में था. जिसकी सूचना मिलते ही सुपौल पुलिस ने उसे हरियाणा से गिरफ्तार कर सुपौल लाया. जहां नेपाली पुलिस ने उसकी पहचान नेपाली भुमिगत संगठन के सैन्य कमांडर आर के यादव के रूप में की.

भारत सहित नेपाल में दर्जनों मामले है दर्ज

अपराधी आरके यादव उर्फ माओवादी की गिरफ्तारी नेपाल ही नही इंटरपोल और कई बड़े संगठनों के लिए बड़ी सफलता है. इसके ऊपर नेपाल और भारत में दर्जनों हत्या, अपहरण, लूट, बम ब्लास्ट के मामले दर्ज है. इसकी गिरफ्तारी नेपाल और भारत के सहयोग को एक बार फिर मजबूत करेगा. कहते हैं एसपी मनोज कुमार गिरफ्तार अभियुक्त को जेल भेजने की कार्रवाई शुरु कर दी गई है. सजा दिलाने के लिए त्वरित विचारण कराया जायेगा. वहीं उन्होंने बताया इन अपराधियों की गिरफ्तारी से नेपाल और भारत के बीच सहयोग और बढ़ेगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.