सुपौल में अवैध हुंडी कारोबार का भंडाफोड़, लगभग 55 लाख बरामद

इस मामले में कुल 54 लाख 96 हजार रुपये बरामद किए गए, जिनका वैध स्तोत्र नहीं बताया गया है. इस मामले में भारी संख्या में संदिग्ध दस्तावेज भी बरामद हुए, जिनकी जांच-पड़ताल चल रही है.

News18 Bihar
Updated: September 5, 2018, 4:17 PM IST
News18 Bihar
Updated: September 5, 2018, 4:17 PM IST
नेपाल पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई करते हुए सीमा क्षेत्र में चल रहे अवैध हुंडी कारोबार का भंडाफोड़ किया है. मामला इतना बड़ा और सनसनीखेज रहा कि इसमें नेपाल पुलिस प्रमुख भी आ गए. मामला सुपौल का है.

देशों की सीमाएं हमेशा से तस्करी का हिस्सा बनती रही हैं, फिर चाहे वो मानव तस्करी हो या फिर पैसों की तस्करी. ताजा मामला भी कुछ ऐसा ही है. यहां नेपाल सीमा पर अवैध हुंडी कारोबार का खुलासा हुआ है. लगभग 55 लाख रुपयों के साथ 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया. पुलिस के मुताबिक उन्हें मिली गुप्त सूचना के आधार पर बीरगंज के माई स्थान स्थित सुमित्रा देवी गुप्ता के यहां छापेमारी की गई. यहां पर्सा जिला के निवासी पवन कुमार गुप्ता और बीरगंज के सोना लाल गुप्ता के यहां किराए के कमरे में अवैध वितीय कारोबार में लिप्त अजय कुमार जायसवाल को गिरफ्तार किया गया है. अजय बारा जिले का निवासी है. निशानदेही पर बीरगंज निवासी अजय मानंधर और पूर्वी चंपारण के रामगढ़वा अंतर्गत चम्पापुर निवासी साबिर मियां व रक्सौल के अशोक श्रीवास्तव को भी गिरफ्तार किया गया.

पुलिस ने बताया कि इस मामले में कुल 54 लाख 96 हजार रुपये बरामद किए गए, जिनका वैध स्तोत्र नहीं बताया गया है. इस मामले में भारी संख्या में संदिग्ध दस्तावेज भी बरामद हुए, जिनकी जांच-पड़ताल चल रही है. मामले की छानबीन शुरू हो चुकी है. माना जा रहा है कि इसके तार रक्सौल बॉर्डर समेत देश-विदेश से जुड़े हुए हैं. (नेपाल से अभिषेक मिश्रा की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें-

एनडीए में कौन नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनते नहीं देखना चाहता?

बिना मेकअप ऐसी दिखती हैं भोजपुरी सिनेमा की ये टॉप-5 अभिनेत्रियां
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर