सुपौल: केस वापस नहीं लिया तो दबंगों ने रेप पीड़िता का किया अपहरण
Supaul News in Hindi

सुपौल: केस वापस नहीं लिया तो दबंगों ने रेप पीड़िता का किया अपहरण
सुपौल का छातापुर थाना

इस मामले में महिला थाना में केस दर्ज किया गयी जिसमें आरोपी सहित उसके भाई और मां-बाप को नामजद भी किया गया

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
बिहार के सुपौल जिले में बलात्कार पीड़िता के अपहरण का सनसनीखेज मामला सामने आया है. घटना जिले के छातापुर की है. अपहृत का अभी तक कोई सुराग नहीं मिल सका है. छातापुर के सोहटा गांव में बीते 13 मार्च को पड़ोस के युवक द्वारा एक 13 वर्षीय किशोरी का बलात्कार किया गया.

इस केस में पीड़िता के शिकायत पर महिला थाने में केस अंकित कर आरोपी के परिजन की गिरफ़्तारी भी हुई. इस घटना के बाद आरोपी द्वारा लगातार पीड़िता के परिजनों को आरोपी पक्ष से धमकी भी मिल रही थी. इस घटना के एक माह बाद जब पीड़िता के परिजन आरोपी के पक्ष के बातों को नहीं माना गया तो इस बीच पीड़िता का अपहरण कर लिया गया.

इस मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पीड़ित परिवार के शिकायत पर मामला दर्ज किया और नामजद आरोपी के मां को गिराफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है लेकिन आरोपी युवक गोविन्द राम अब भी पुलिस के गिरफ्त से बाहर है. 13 मार्च को 13 वर्षीय किशोरी घर में अकेली थी और मां-बाप खेत में काम करने गए थे इसी बीच पड़ोस के युवक गोविन्द राम उसके घर में घुस गया और किशोरी का रेप किया.



इस मामले में महिला थाना में केस दर्ज किया गयी जिसमें आरोपी सहित उसके भाई और मां-बाप को नामजद भी किया गया. रेप की बात कानोकान पूरे गांव में फ़ैल गयी. पंचायत बुलाई गई की स्वजाति होने के कारण दोनों की शादी करा दी जाय लेकिन आरोपी पक्ष द्वारा दहेज़ की मांग की जाने लगी.



आर्थिक रूप से कमजोर पीड़ित पक्ष दहेज की मांग पूरी नहीं कर सका. ये मामला चल ही रहा था कि इस बीच आरोपी पक्ष द्वारा केस उठाने की धमकी भी दिया जाता था लेकिन केस नहीं उठाने के कारण आरोपियों द्वारा ही पीड़ित किशोरी का अपहरण कर लिया गया है.
First published: May 3, 2018, 12:19 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading