पूर्व CM की अंत्येष्टि और नीतीश कुमार के सामने ही जवाब दे गईं बिहार पुलिस की 22 राइफल

पुलिस की ये बेईज्जती सीएम नीतीश कुमार के सामने ही हुई. बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा की सुपौल में उनके पैतृक गांव में अंत्येष्टि हो रही थी

News18 Bihar
Updated: August 21, 2019, 5:14 PM IST
पूर्व CM की अंत्येष्टि और नीतीश कुमार के सामने ही जवाब दे गईं बिहार पुलिस की 22 राइफल
सुपौल में गार्ड ऑफ ऑनर के दौरान फायरिंग करते बिहार पुलिस के जवान
News18 Bihar
Updated: August 21, 2019, 5:14 PM IST
बिहार पुलिस (Bihar Police) हमेशा से अपने अजीबोगरीब कारनामों के लिए जानी जाती है. कभी इसका मजाक पुलिसकर्मियों (Policemen) की वजह से उड़ता है तो कभी संसाधनों के अभाव में. बुधवार को भी एक ऐसा ही नजारा देखने को मिला, जब एक साथ बिहार पुलिस की 22 राइफल (Rifle) फेल हो गईं, वो भी पूर्व सीएम डॉ जगन्नाथ मिश्र (Jagannath Mishra) की अंत्येष्टि में. खास बात ये रही की पुलिस की ये बेईज्जती सीएम (CM) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के सामने ही हुई.

पैतृक गांव में हो रही थी जगन्नाथ मिश्रा की अंत्येष्टि
बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा की सुपौल में उनके पैतृक गांव में अंत्येष्टि हो रही थी. इस दौरान शव को सलामी देने पहुंचे पुलिस वालों ने जब फायरिंग की तो किसी की बंदूक नहीं चली. जानकारी के मुताबिक, पूर्व सीएम के सम्मान में उनको 22 बंदूकों से सलामी दी जानी थी लेकिन एक भी बंदूक से गोली नहीं चली. ये पूरी घटना सीएम नीतीश कुमार के सामने हुई.



राजद ने बताया अपमान
पुलिस के इस कारनाने पर राजद ने भी चुटकी ली है. पार्टी के विधायक यदुवंश यादव ने कहा कि ये न केवल पुलिस की नाकामी बल्कि पूर्व सीएम के सम्मान के साथ खिलवाड़ का मामला है. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच होनी चाहिए.

सोमवार को हुआ था पूर्व सीएम का निधन
Loading...

बता दें, 82 वर्ष के डॉ जगन्नाथ मिश्र का निधन सोमवार को हो गया था. मंगलवार को उनका पार्थिव शरीर उनके पटना में शास्त्री नगर स्थित आवास पर रखा गया था. यहां लोगों ने बड़ी संख्या में उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की थी. इस अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि डॉ जगन्नाथ मिश्र के निधन से हम सब दुखी हैं.

बता दें, जगन्नाथ मिश्रा की गिनती बिहार के कद्दावर नेताओं में होती थी. वो तीन बार बिहार के सीएम रहे थे, साथ ही केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी मंत्री का पद संभाल चुके थे. उनके निधन के बाद तीन दिनों के राजकीय शोक की घोषणा की गई है.

(इनपुट- अमित कुमार झा)

ये भी पढ़ें- शहीद SI के पिता बोले- पुलिस के लोगों ने ही मेरे बेटे को मारा

ये भी पढ़ें- बिहार के DGP ने क्‍यों कहा- मेरी भी हो सकती है हत्‍या?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुपौल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 4:12 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...