अपना शहर चुनें

States

सुपौल: रंजीत रंजन के खिलाफ डोर-टू-डोर कैम्पेन करेगी RJD

फाइल फोटो
फाइल फोटो

रंजीता रंजन के विरोध में आरजेडी अब पूरी तरह से गोलबंद हो गई है. पार्टी ने अपने कार्यकर्ताओं से निर्दलीय प्रत्याशी दिनेश यादव को मत देने की अपील की है.

  • Share this:
बिहार की हॉट लोकसभा सीटों में एक है सुपौल. कारण यहां कांग्रेस पार्टी की रंजीत रंजन उम्मीदवार तो महागठबंधन ही हैं, लेकिन उनका विरोध करने  के लिए आरजेडी का पूरा कुनबा लगा हुआ है. अब आरजेडी ने रंजीत रंजन  का विरोध करने के लिए डोर-टू-डोर कैम्पेन चलाने का निर्णय लिया है.

रंजीता रंजन के विरोध में आरजेडी अब पूरी तरह से गोलबंद हो गई है. पार्टी ने अपने कार्यकर्ताओं से निर्दलीय प्रत्याशी दिनेश यादव को मत देने की अपील की है.

ये भी पढ़ें- सुशील मोदी का आरोप: नीतीश सरकार गिराने के लिए लालू ने की थी अरूण जेटली से पेशकश



आरजेडी विधायक और पार्टी के जिला अध्यक्ष यदुवंश के यादव के नेतृत्व में हुई बैठक में आरजेडी कार्यकर्ताओं ने ये निर्णय भी लिया कि वे रंजीत रंजन को हराने के लिए डोर-टू-डोर कैम्पेन करेंगे.
इस बात की जानकारी देते हुए विधायक यदुवंश यादव ने कहा कि अब लालू प्रसाद और तेजस्वी के इज्जत की लङाई है. एक ओर पप्पू यादव यहां समर्थन मांगते हैं और मधेपुरा में मंडल मसीहा शरद यादव का विरोध करते हैं.

ये भी पढ़ें- Analysis: सिद्धू की 'बदजुबानी' से बैकफुट पर तारिक अनवर, दोबारा 'विश्वास' जीतने की चुनौती

उन्होंने स्पष्ट किया कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने तय किया है कि आरजेडी के समर्थन से खङे निर्दलीय प्रत्याशी दिनेश यादव को जिताने का काम करेगा.

यदुवंश यादव ने कहा कि जिस तरह से पप्पू यादव और रंजीत रंजन ने राष्ट्रीय कांग्रेस को पप्पू-रंजीत कांग्रेस बना दिया है. उसी तरह से आरजेडी को पप्पू-रंजीत पार्टी नहीं बनने दिया जाएगा.

बहरहाल यदुवंश ने जो बिगुल फूंका है इससे सुपौल का राजनीतिक संघर्ष दिलचस्प बन पड़ा है. बता दें कि महागठबंधन का उम्मीदवार होते हुए भी तेजस्वी यादव ने रंजीत रंजन के लिए अब तक कोई सभा नहीं की. यही नहीं पार्टी की स्थानीय ईकाई के विरुद्ध भी अब तक कुछ नहीं बोला है.

रिपोर्ट- अमित कुमार झा

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज