एक बच्चे पर हिंदू और मुस्लिम मां की दावेदारी, पढ़ें दिलचस्प कहानी

News18 Bihar
Updated: August 30, 2019, 4:49 PM IST
एक बच्चे पर हिंदू और मुस्लिम मां की दावेदारी, पढ़ें दिलचस्प कहानी
सुपौल में एक बच्चे पर दो मां की दावेदारी.

बीते 17 अगस्त को राखी बंधवाने के बाद तिलकेश्वर का बेटा रिंकू अपनी बहन को छोड़ने पड़ोस के एकमा गांव गया और उसके बाद वह लापता हो गया.

  • Share this:
बिहार के सुपौल (Supaul) में ममता की तड़प का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने हिंदू-मुसलमान  (Hindu -Muslim) के बीच के फर्क को दरकिनार कर दिया है. दरअसल हिंदू मां का दावा है कि उनका इकलौता वारिस रिंकू हिंदू है. वहीं,  मुस्लिम मां उसे अपना दिलशाद कहती है. वह कहती है कि अपने कलेजे के टुकड़े को अलग नहीं करना चाहती. मानसिक रूप से बीमार और गूंगे रिंकू पर दोनों मां अपना अधिकार जमा रही हैं. दोनों के पास अपने तर्क हैं जो पुलिस के लिए भी मुसीबत बन गए हैं.

एक लड़के पर दो माओं की दावेदारी
दरअसल तिलकेश्वर यादव नाम के एक व्यक्ति का पूरा परिवार दिल्ली में रहता था. रक्षा बंधन में अपनी बेटे के साथ यह परिवार सुपौल जिले के गड़बरुआरी अपने पैतृक गांव पहुंचा था. बीते 17 अगस्त को राखी बंधवाने के बाद तिलकेश्वर का बेटा  रिंकू अपनी बहन को छोड़ने पड़ोस के एकमा गांव गया और उसके बाद वह लापता हो गया.

मुस्लिम परिवार में रह रहा रिंकू

परिजनों ने काफी ढूंढा तो पता चला कि उसका बेटा पड़ोस गांव के रहने वाले सोल्हनी निवासी एक मुस्लिम परिवार वाले के घर में देखा गया. वहां ढूंढा तो पता चला कि उसे उसकी तथाकथित मां ने रिंकू को अपना बेटा दिलशाद बताकर ननिहाल पिपरा थाना इलाके के ठाढ़ी भवानीपुर ले गए हैं. जब तिलकेश्वर यादव और उनके परिजन वहां पहुंचे तो उन लोगों ने उनके बेटे को देने से इनकार कर दिया.

supaul
थाने में दिया गया आवेदन


न्यूज 18 ने की मामले की पड़ताल
Loading...

अब ये मामला पुलिस तक पहुंच गया है और परिजनों ने सदर थाना पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है. वहीं जब न्यूज 18 की टीम ने पिपरा थाना इलाके के ठाढ़ी भवानीपुर में  पड़ताल की तो पता लगा कि जिस  लड़के का नाम दिलशाद बताया जा रहा है यहां उसकी एक मां भी है.

मुस्लिम कल्चर अपना चुका है रिंकू
वह बताती है कि 14 साल पहले उसका 11 साल का बेटा दिल्ली के दरियागंज से लापता हो गया था जिसका उसने बाकायदा दिल्ली में गुमशुदगी का मामला भी दर्ज करवाया था, मगर बेटा नहीं मिला. अब वो रिंकू को दिलशाद बता कर अपने लाड़ले के लौट आने की बात कह रही है.  वहीं, रिंकू अब दिलशाद बनकर पूरी तरह मुस्लिम रीति रिवाजों में रमा हुआ दिख रहा है.

जबरन मुसलमान बनाने का आरोप
दूसरी ओर तिलकेश्वर यादव का रिंकू के दावे को लेकर मौजूद दस्तावेज काफी पुराना है. लेकिन हाल के दिनों की कई तस्वीर भी उसके दोस्तों के साथ की है. उसके दोस्त दावा करते हैं कि रिंकू को जबरन मुसलमान बनाने की कवायद चल रही है.

Supaul
अपने दोस्तों संग रिंकू


न्यूज 18 ने जब सदर एसडीपीओ से विद्यासागर से सवाल किया तो उन्होंने बताया कि दोनों परिवार वाले दावा कर रहे हैं. दोनों में से एक बचपन का फोटो दिखा रहा है जबकि दूसरा आधार कार्ड, बैंक अकाउंट समेत स्कूल का कागजात दिखा रहा है. अब पुलिस DNA टेस्ट करवाने की बात पर विचार कर रही है.

रिपोर्ट- अमित कुमार झा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सुपौल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 4:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...