लाइव टीवी

घर में छिपा था मुंबई से लौटा कोरोना वायरस का संदिग्ध, गांववालों ने दी स्वास्थ्य विभाग को सूचना और फिर...
Jamui News in Hindi

News18 Bihar
Updated: March 21, 2020, 9:10 AM IST
घर में छिपा था मुंबई से लौटा कोरोना वायरस का संदिग्ध, गांववालों ने दी स्वास्थ्य विभाग को सूचना और फिर...
परिवार के तीन सदस्यों के साथ जमुई सदर अस्पताल में भर्ती किया गया कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज

मणिकांत बीमार हालत में गुरुवार को मुंबई से अपने गांव लौटा था. गांववालों ने उसे कोरोना का संदिग्ध मानते हुए इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दी कि बीमार मणिकांत अपने घर में छिपा हुआ है.

  • Share this:
जमुई. जिले में कोरोना वायरस (Corona virus) के एक संदिग्ध मरीज को स्वास्थ्य विभाग ने इलाज के लिए आइसोलेशन वार्ड (Isolation ward) में लाया है. बताया जा रहा है कि मणिकांत साव नाम का ये व्यक्ति ऑटो रिक्शा चालक है और हाल में ही मुंबई (Mumbai) से घर लौटा है. एहतियातन उसके घर के तीन और सदस्यों को भी स्वास्थ्य विभाग ने ऑब्जर्वेशन के लिए आइसोलेशन वार्ड में रखा है.

मुंबई से लौटा था संदिग्ध मरीज
जमुई के खैरा इलाके से आने वाले इन चारों पर स्वास्थ्य विभाग निगरानी रख रही है. चारों लोगों को संदिग्ध मानते हुए कोरोना संक्रमण को लेकर निरीक्षण किया जा रहा है. मणिकांत साव मुंबई से आने के बाद सर्दी, बुखार और फांसी से प्रताड़ित था. साथ ही वह अपने घर में छिपा हुआ था. इस बात की जानकारी जब गांववालों को लगी तब लोगों ने स्वास्थ्य विभाग को इसकी जानकारी दी थी.

परिजन संग भेजा गया आसोलेशन वार्ड



दरअसल शुक्रवार की देर शाम स्वास्थ्य विभाग को जानकारी मिली थी कि कोरोना का एक संदिग्ध जमुई जिले के खैरा थाना इलाके के सिंगारीटांड के गांव स्थित अपने घर में छिपा हुआ है. दरअसल मणिकांत साव बीते 5 दिनों से हाई फीवर से ग्रसित था, जिसे सर्दी और खांसी भी थी.

गांवावालों स्वास्थ्य विभाग को दी जानकारी
मणिकांत बीमार हालत में गुरुवार को मुंबई से अपने गांव लौटा था. गांववालों ने उसे कोरोना का संदिग्ध मानते हुए इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दी कि बीमार मणिकांत अपने घर में छिपा हुआ है. जानकारी मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम एंबुलेंस लेकर उसके घर पहुंची और फिर उसे सदर अस्पताल में स्थापित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया.

स्वास्थ्य विभाग ने मणिकांत के परिवार के तीन और सदस्य मनोज साव, जितेंद्र साव और नरेश साव को भी कोरोना का संदिग्ध मानते हुए सदर अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा है.

मामले की जानकारी देते हुए जमुई जिला स्वास्थ्य प्रबंधक सुधांशु कुमार ने बताया कि  चारों लोगों को सदर अस्पताल में मेडिकल टीम निगरानी रख रही है. जरूरत पड़ने पर इन लोगों को भागलपुर या पटना भेजा जाएगा.

(रिपोर्ट- केसी कुंदन)

ये भी पढ़ें


Coronavirus: पीएम मोदी ने बिहार की जनता को किया नमन, कही ये खास बात




बिहार: बिजली की नयी दर का ऐलान, 10 पैसे प्रति यूनिट की राहत, नहीं देना होगा मीटर रेंट


 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जमुई से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 21, 2020, 8:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर