Home /News /bihar /

मरीज की मौत के बाद मैक्स हॉस्पिटल में परिजनों का हंगामा, जान बचाकर भागे डॉक्टर

मरीज की मौत के बाद मैक्स हॉस्पिटल में परिजनों का हंगामा, जान बचाकर भागे डॉक्टर

मरीज की मौत के बाद अस्पताल के बाहर जुटे मरीज के परिजन.

मरीज की मौत के बाद अस्पताल के बाहर जुटे मरीज के परिजन.

जमुई की मैक्स हॉस्पिटल (Max Hospital) में इलाज के दौरान एक शख्स की मौत (Death) हो गई. जिसके बाद परिजनों ने अस्पातल (Hospital) में जमकर हंगामा किया. डॉक्टर (Doctor) और अन्य कर्मचारी जान बचाकर मौके से भाग निकले.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
जमुई. शहर के मैक्स हॉस्पिटल (Max Hospital) में इलाज के दौरान एक शख्स की मौत (Death) हो गई. मरीज की मौत के बाद परिजनों ने हॉस्पिटल (Hospital) में जमकर हंगामा किया. जिस शख्स की मौत हुई है उसका नाम दिवाकर सिंह बताया गया है, जो झाझा इलाके के जामू खरैया का रहने वाला था. परिजन का आरोप है कि मरीज को जमुई के मैक्स से पटना के मैक्स (Max Hospital Patna) में रेफर किया गया था फिर उसे जमुई वापस लाकर भर्ती कराया गया, जहां बीती रात उसकी मौत हो गई.

परिजनों का आरोप है कि अस्पताल की लापरवाही के कारण मरीज की मौत हुई है. डॉक्टरों ने ऑपरेशन में कुछ गड़बड़ की है तभी चिकित्सक और कर्मी अस्पताल छोड़कर फरार हैं. मरीज की मौत के बाद परेशान परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया. सूचना पर मौके पर पहुंची नगर थाना पुलिस ने हंगामा करने वाले लोगों को शांत कराया. मरीज के परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाते हुए चिकित्सक और अस्पताल प्रबंधन पर कार्रवाई की मांग की है.

पेट दर्द की शिकायत पर कराया गया था भर्ती
दरअसल जिले के झाझा थाना इलाके के जामुखरैया के रहने वाले 45 वर्षीय दिवाकर सिंह को पेट में दर्द की शिकायत पर कुछ दिन पहले शहर के मैक्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. यहां से डॉक्टरों ने उन्हें पटना के मैक्स हॉस्पिटल में रेफर कर दिया था. बताया जा रहा है कि 15 दिन पहले पटना के मैक्स में ही दिवाकर सिंह का ऑपरेशन हुआ था फिर बाद में स्थिति बेहतर होने की बात कह कर उसे वापस जमुई के मैक्स हॉस्पिटल में भेज दिया गया, जहां बीती रात उसकी मौत हो गई.

परिजन का आरोप है कि अगर पटना के मैक्स हॉस्पिटल में ऑपरेशन हुआ और वहां स्थिति ठीक थी तो जमुई क्यों भेजा गया. इस बारे में मृतक के परिजन विश्वजीत कुमार उर्फ गब्बर सिंह ने आरोप लगाया है कि ऑपरेशन में जरूर गड़बड़ी हुई है और पटना में जब स्थिति में सुधार नहीं हो रहा होगा तभी मरीज को जमुई भेजा गया, जहां उसकी मौत हो गई. मृतक के परिजनों का आरोप है कि मरीज की मौत होने के बाद ना तो चिकित्सक हैं दिखे और ना ही अस्पताल प्रबंधन का कोई शख्स. परिजनों का आरोप है कि 5 हजार रुपये देकर मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की गई है. परिजन ने मामले की जांच करते हुए चिकित्सक और अस्पताल प्रबंधन पर करवाई की मांग की है.

थाना अध्यक्ष ने क्या कहा
मामले में नगर थाना अध्यक्ष चंदन कुमार ने बताया कि सूचना के बाद मौके पर पुलिस बल को तैनात किया गया है, मृतक के परिजन के द्वारा अभी कोई लिखित आवेदन नहीं मिला है, आवेदन मिलने पर कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Bihar News, Bihar police, Crime News, Max Hospital

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर