• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • आइसोलेशन वार्ड से गायब होने वाला प्रवासी मजदूर निकला Corona Positive, प्रशासन में हड़कंप

आइसोलेशन वार्ड से गायब होने वाला प्रवासी मजदूर निकला Corona Positive, प्रशासन में हड़कंप

प्रशासनिक महकमे में उस समय हड़कंप मच गया जब युवक की रिपोर्ट आयी.

प्रशासनिक महकमे में उस समय हड़कंप मच गया जब युवक की रिपोर्ट आयी.

लालगंज के आइसोलेशन वार्ड (Isolation Ward) से कोरोना मरीज के गायब होने को लेकर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है. हालांकि अब प्रवासी मजदूर के संपर्क में आए 16 अन्‍य लोगों के सैंपल भी लिए गए हैं.

  • Share this:
हाजीपुर. वैशाली के लालगंज के कोरोना मरीज के आइसोलेशन वार्ड (Isolation Ward) से गायब होने के मामले को लेकर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है. घटना लालगंज प्रखंड के रिखर पंचायत की है. आरोप है कि क्‍वारंटाइन सेंटर एबीएस कॉलेज में रह रहे एक प्रवासी मजदूर (Migrant Laborer) की 23 मई को कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आयी थी, जिसके बाद उसके साथ रह रहे सभी 8 अन्य प्रवासी मजदूरों को हाजीपुर के आइसोलेशन वार्ड में भेजे जाने की बात कही गई, लेकिन उनमें से एक प्रवासी मजदूर अजीबोगरीब तरीके से आइसोलेशन वार्ड से गायब हो गया.

आइसोलेशन वार्ड से गायब होने के बाद किया ये काम
आइसोलेशन वार्ड से गायब होने के बाद प्रवासी मजदूर ना सिर्फ अपने परिवार के साथ रहा बल्कि बैंक से पैसे निकाले के अलावा सैलून भी गया. यही नहीं, वह 2 दिनों तक खुलेआम गांव में घूमता रहा, लेकिन प्रशासन बेखबर रहा. जबकि ग्रामीण मजदूर के गांव में घूमने के सबूत भी दिखा रहे हैं.

प्रशासनिक महकमे में मचा हड़कंप
प्रशासनिक महकमे में उस समय हड़कंप मच गया जब अपने घर चले आए प्रवासी मजदूर के साथ आइसोलेशन वार्ड में रह रहे सभी 8 प्रवासी मजदूरों की रिपोर्ट भी बीते 25 मई कोरोना पॉजिटिव आयी. इसके बाद प्रशासन आइसोलेशन वार्ड से गायब में प्रवासी मजदूर खोज में जुट गया. जबकि ग्रामीणों का कहना है कि 26 मई की रात्रि प्रशासन गायब हुए प्रवासी मजदूर को आनन-फानन में गांव आकर ले जाया गया. हालांकि इसकी सूचना मिलते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए जमकर हंगामा किया. वहीं, पूर्व पैक्स अध्यक्ष नवल किशोर सिंह के मुताबिक यह प्रशासन की बड़ी लापरवाही है. उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर आइसोलेशन वार्ड से वह प्रवासी मजदूर कैसे लापता हो गया और प्रशासन को खबर क्यों नहीं लगी. यही नहीं, ग्रामीणों के हंगामे को देखते हुए प्रशासन द्वारा मौके पर स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजी गई, जिसे ग्रामीणों ने खूब खरी-खोटी सुनाई.

16 लोगों के लिए सैंपल
ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए मौके पर पहुंची मेडिकल टीम द्वारा आइसोलेशन वार्ड से गायब होकर गांव आए प्रवासी मजदूर के संपर्क में आए 16 लोगों के सैंपल लिए गय हैं, लेकिन गांव वालों का कहना है कि इसमें जो दोषी है उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. जबकि प्रशासन बैकफुट पर है और ऐसे में प्रशासन की ओर से कोई भी खुलकर बोलने को तैयार नहीं है. हालांकि मौके पर पहुंची मेडिकल टीम ने सभी की जांच कराने की बात कहर कर सवालों से पल्ला झाड़ लिया है.
जबकि लालगंज रेफरल अस्पताल की प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी शशि भूषण प्रसाद ने कहा कि उन्हें लापता प्रवासी मजदूर के संपर्क में आए लोगों का सैंपल लिए जाने का आदेश मिला है. बाकी प्रवासी मजदूर कैसे लापता हुआ इसकी जानकारी मुख्यालय के वरीय पदाधिकारी देंगे. वहीं, आइसोलेशन वार्ड के इंचार्ज अभिषेक शर्मा ने बताया कि इसकी जांच कराई जाएगी और उसके बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकेगा.

ये भी पढ़ें

तेजस्वी बोले- सीएम के इशारे पर गोपालगंज नरसंहार की लीपापोती कर रही पुलिस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज