वैशाली: उत्तर बिहार के सबसे बड़े गन फैक्ट्री का खुलासा, एक हजार से अधिक अर्ध निर्मित पिस्टल बरामद

बिहार के वैशाली में मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा (प्रतीकात्मक तस्वीर)
बिहार के वैशाली में मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बिहार के वैशाली में हुई इस कार्रवाई में बंगाल पुलिस के साथ पटना एसटीएफ, मुजफ्फरपुर, वैशाली पुलिस शामिल थी.

  • Share this:
वैशाली. बिहार के वैशाली में पुलिस ने अवैध गन फैक्ट्री (Gun Factory) का खुलासा करते हुए भारी मात्रा में अर्ध निर्मित हथियार बरामद किया है. इस कार्रवाई में बंगाल के अलावा एसटीएफ (STF) समेत दो अन्य जिलों की पुलिस शामिल थी. टीम ने वैशाली के कटरा थाना इलाके में गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई की. इस रेड (Police Raid) में बंगाल पुलिस के साथ पटना एसटीएफ, मुजफ्फरपुर और वैशाली पुलिस की टीम शामिल थी. पुलिस ने छापेमारी करते हुए भारी मात्रा में अर्ध निर्मित हथियारों का जखीरा बरामद किया. अवैध हथियार का यह फैक्ट्री एक घर में संचालित हो रही था.

सात अपराधी गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक अवैध हथियार के फैक्ट्री संचालन में मुंगेर कनेक्शन भी उजागर हुआ है. छापेमारी के दौरान पुलिस ने मौके से 7 अपराधियों को गिरफ्तार किया है जिसमें चार लोग मुंगेर के रहने वाले हैं जबकि तीन वैशाली के रहने वाले है. पुलिस छापेमारी में गिरफ्तार मोहम्मद लड्डन, मोहम्मद ललन, मोहम्मद परवेज और मोहम्मद अफरोज मुंगेर के रहने वाले हैं जबकि साहेब राज सर्फे आलम और आसिफ रजा वैशाली के रहने वाले हैं. पुलिस ने चकौलिया गांव में साहेब राज के घर पर छापेमारी की जहा लंबे समय से  अवैध हथियार का फैक्ट्री संचालित हो रही थी.



इन जिलों की पुलिस थी शामिल
एसपी गौरव मंगला ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने अवैध हथियार की फैक्ट्री का उद्भेदन किया है. इस छापेमारी में बंगाल पुलिस के साथ पटना एसटीएफ, मुजफ्फरपुर, वैशाली पुलिस शामिल थी. छापेमारी अभियान में मुजफ्फरपुर के सिटी एसपी नीरज कुमार और वैशाली एसपी गौरव मंगला के अलावा भारी मात्रा में पुलिस टीम थी. इस दौरान गांव की घेराबंदी कर पुलिस ने छापेमारी की गई जिसके बाद अवैध हथियार का फैक्ट्री का भंडाफोड़ हो सका.

बंगाल पुलिस को मिली थी सूचना

इस दौरान भारी मात्रा में अर्ध निर्मित हथियारों का जखीरा बरामद किया गया साथ ही मौके से पुलिस को एक पिस्टल और दो गोली भी मिली. पुलिस छापेमारी के दौरान इलाके में हड़कंप मचा रहा. बड़ी संख्या में मौके पर ग्रामीण इकट्ठा दिखाई दिए. पकड़े गए अपराधियों से पुलिस गहन पूछताछ कर रही है. माना जा रहा की यहां से राज्य के कई इलाकों में हथियार का सप्लाई किया जा रहा था. बंगाल पुलिस को इस बात की सूचना मिली थी जिसके बार कार्रवाई की गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज