टीम मोदी में शामिल किए जाने पर नित्यानंद राय के गांव में उत्सव, साथ मनी होली-दिवाली
Patna News in Hindi

टीम मोदी में शामिल किए जाने पर नित्यानंद राय के गांव में उत्सव, साथ मनी होली-दिवाली
बिहार में वैशाली के कर्णपुरा गांव में नित्यानंद राय को मंत्री बनाए जाने पर जश्न

नित्यानंद राय ने 1981 में विद्यार्थी परिषद से जुड़कर अपनी राजनैतिक करियर की शुरुआत की. बाद में संघ और भाजपा में आ गए और कई बार हाजीपुर से भाजपा के टिकट पर विधायक बने.

  • Share this:
बिहार में वैशाली जिले में सदर प्रखंड के कर्णपुरा गांव में उस समय खुशी की लहर दौड़ गई जब भाजपा के बिहार प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय को केंद्र में मंत्री बनाए जाने की खबर मिली.  खबर सुनते ही गांव वाले घरों से बाहर निकल आए और एक दूसरे को बधाइयां देने लगे. यही नहीं इस दौरान दिन के उजाले में ही होली और दीपावली का एक साथ नजारा देखने को मिला.

ग्रामीणों ने एक दूसरे को गुलाल लगाकर बधाइयां दीं और साथ ही जमकर आतिशबाजी कीं.  गांव में मिठाइयां बांटी गईं. इस मौके पर ग्रामीणों ने नित्यानंद राय को मंत्री बनाए जाने पर खुशी का इजहार किया और उन्हें जमीनी नेता बताया.

ग्रामीणों ने एक दूसरे को लगाए रंग और गुलाल




बताते चलें कि नित्यानंद राय ने 1981 में विद्यार्थी परिषद से जुड़कर अपनी राजनैतिक करियर की शुरुआत की.  बाद में संघ और भाजपा में आ गए और कई बार हाजीपुर से भाजपा के टिकट पर विधायक बने.



ये भी पढ़ें- उसूलों और पक्के इरादे के आसरे बढ़ते गए नित्यानंद राय

इसके बाद 2014 में पहली बार उजियारपुर से भाजपा कीे टिकट पर सांसद बने और 2019 में भी दोबारा  उजियारपुर से भाजपा के सांसद  चुने गए हैं.  खास बात ये है कि इतने लबे समय विधायक और एमपी रहे नित्यानंद राय को कभी मंत्री बनने का मौका नहीं मिला था. हालांकि इस बार डायरेक्ट केंद्रीय मंत्री के रूप बनने पर ग्रामीणों और परिजनों में बेहद खुशी है.

बता दें कि पीएम मोदी कैबिनेट में शामिल होने वाले बिहार के नेताओं में नित्यानंद राय के साथ रविशंकर प्रसाद, गिरिराज सिंह बीजेपी से, वहीं एलजेपी से रामविलास पासवान के नाम शामिल हैं.

रिपोर्ट- राजीव मोहन

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading