Home /News /bihar /

cyber cafe owner murder case jija brother in law killed saala just before testification in an old case nodmk3

साइबर कैफे संचालक हत्‍याकांड: जीजा पर लगा हत्‍या का आरोप, पुराने केस में गवाही देने से पहले जान से मार डाला

साइबर कैफे संचालक हत्‍याकांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि चचेरे जीजा ने शख्‍स की हत्‍या कर दी. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

साइबर कैफे संचालक हत्‍याकांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि चचेरे जीजा ने शख्‍स की हत्‍या कर दी. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

Cyber Cafe Owner Murder: वैशाली के साइबर कैफे संचालक की हत्‍या मामले को सुलझाने का दावा किया गया है. पुलिस का कहना है कि शख्‍स की हत्‍या उनके ही जीजा ने की थी. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी की पहचान की गई है. हत्‍यारोपी फिलहाल फरार चल रहा है.

अधिक पढ़ें ...

वैशाली. बिहार के वैशाली जिले में एक साइबर कैफे संचालक की हत्‍या कर दी गई थी. पुलिस ने इस मामले में चौंकाने वाला खुलासा किया है. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज को खंगालने के बाद इस हत्‍याकांड का खुलासा करने का दावा किया है. साइबर कैफे संचालक की पुराने जमीन विवाद में हत्‍या कर दी गई. हत्‍या का आरोप शख्‍स के चचेरे साले पर लगा है. बताया जाता है कि हत्‍यारोपी आपराधिक प्रवृत्ति का है और मृतक पर लगातार पुराने विवाद में समझौता करने का दबाव बना रहा था. चौंकाने वाली यह भी है कि मृतक को एक केस में कोर्ट में गवाही देनी थी, लेकिन उससे पहले ही उन्‍हें मौत के घाट उतार दिया गया.

दरअसल, वैशाली के गोरौल साइबर कैफे संचालक की हत्या मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. हत्या का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमें हत्यारे को देखा जा सकता है. हत्‍यारोपी के साथ ही मर्डर के पीछे की वजहों का भी पता चल गया है. साइबर कैफे संचालक विकास सिंह की हत्या का आरोप उनके ही चचेरे जीजा प्रभात सिंह पर लगा है. बताया जाता है कि प्रभात आपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति है. प्रभात इससे पहले भी कई आपराधिक मामलों में संलिप्त रह चुका है. हत्या के पीछे पुरानी रंजिश की बात सामने आ रही है. विकास कुमार सिंह का अपने पट्टीदारों के साथ जमीन को लेकर पुराना विवाद था, जिसको लेकर साल 2014 में विकास के घर पर गोलीबारी भी की गई थी.

वैशाली में दिनदहाड़े हत्या, दुकान में घुस कर साइबर कैफे मालिक को मारी गोलियां 

समझौते के लिए दबाव
पुराने जमीन विवाद मामले को लेकर आरोपी प्रभात सिंह और पट्टीदारों द्वारा विकास पर सुलह करने का दवाब बनाया जा रहा था. विकास के पिता पर भी इसको ले कर दबाव डाला जा रहा था, लेकिन विकास और उनके पिता इसके लिए तैयार नहीं हुए थे. इसको लेकर कई बार पंचायती भी हुई थी. विकास देवघर से वापस लौटा था और पुराने केस में कोर्ट उनकी गवाही होने वाली थी. उससे पहले ही गोली मारकर उनकी हत्या कर दी गई.

पुलिस को झेलना पड़ा लोगों का गुस्‍सा
विकास की हत्या के बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाने में पुलिस को कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ा. पुलिस को लोगों के अक्रोश का सामना करना पड़ा. आखिरकार मंगलवार देर शाम पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा. परिजनों का आरोप था कि केस सुलह करने के लिए विकास को धमकी दी जा रही थी, जिसकी सूचना स्‍थानीय पुलिस को दी गई थी. इसके बावजूद पुलिस ने सुरक्षा मुहैया नहीं कराई. बहरहाल पुलिस ने हत्या के आरोपी युवक की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है. मौके पर एफएसएल की टीम को भी बुलाया गया था.

Tags: Crime News, Vaishali news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर