महनार विधानसभा सीट: दो-दाे जीत के साथ जदयू और लोजपा रहे हैं बड़ी ताकत, RJD कभी न जीत सकी

महनार विधानसभा में जेडीयू और एलजेपी दो-दो बार जीत हासिल कर चुके हैं.
महनार विधानसभा में जेडीयू और एलजेपी दो-दो बार जीत हासिल कर चुके हैं.

महनार विधानसभा सीट (Mahnar Assembly Seat) पर जदयू-लोजपा ने दो-दो बार और बीजेपी ने 1 बार जीत हासिल की है. राजद यहां अभी तक एक बार भी जीत हासिल नहीं कर सका है. एनडीए में ये सीट किसके पाले में जाएगी, ये देखना दिलचस्प होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 5:57 PM IST
  • Share this:
वैशाली. चुनाव आयोग ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) की तारीखों का ऐलान कर दिया है. इसके तहत महनार विधानसभा सीट (Mahnar Assembly Constituency) पर 3 नवंबर को वोट डाले जाएंगे. ये सीट वैशाली (Vaishali) जिले का हिस्सा है और हाजीपुर लोकसभा क्षेत्र (Hajipur Loksabha) में आती है. इस पर एनडीए की मजबूत पकड़ मानी जाती है. राजद या कांग्रेस के लिए यहां जीत हासिल करना बड़ी चुनौती है.

सीट का चुनावी गणित

एनडीए की मजबूत स्थिति की बात करें तो जदयू-लोजपा यहां दो-दो बार और बीजेपी ने 1 बार जीत हासिल की है. राजद यहां अभी तक एक बार भी जीत हासिल नहीं कर सका है. पिछले 2015 के विधानसभा चुनाव में राजद-जदयू और कांग्रेस के महागठबंधन से ये सीट जेडीयू के खाते में गई थी. अब तस्वीर बदल चुकी है. महागठबंधन टूट चुका है और जेडीयू, एलजेपी, बीजेपी एक साथ हैं. ऐसे में देखना ये भी दिलचस्प होगा कि इस सीट पर टिकट किसे मिलता है.



वोटर
इसी सीट पर 272958 वोटर हैं, इनमें से 147506 पुरुष वोटर हैं, जबकि 125436 महिला मतदाता हैं. 2015 में इस विधानसभा सीट पर 54 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था.

पिछले चुनावों की कहानी

2015 के विधानसभा चुनावों में यहां से जेडीयू के उमेश सिंह कुशवाहा ने जीत हासिल की थी. उन्होंने बीजेपी के अच्युतानंद को भारी अंतर से मात दी थी. चुनाव में उमेश सिंह को 69825 वोट मिले थे, जबकि अच्युतानंद महज 43370 वोट ही हासिल कर सके थे.

इससे पहले 2010 में महनार में अच्युतानंद ही विजयी रहे थे. उस समय उन्होंने लोक जनशक्ति पार्टी के बाहुबली नेता रामा किशोर सिंह को नजदीकी मुकाबले में करीब ढाई हजार वोटों से मात दी थी. इससे पहले 2005 का वर्ष रामा किशोर सिंह के नाम रहा था, उन्होंने फरवरी और अक्टूबर में हुए चुनाव में राजद के मुंशीलाल को हराया था. मुंशीलाल ने राम किशोर सिंह को 1995 में यहां से मात दी थी, उस समय मुंशीलाल जनता दल से खड़े हुए थे, जबकि राम किशोर सिंह निर्दलीय प्रत्याशी थे.

महनार से विधायक

2015 में जेडीयू के उमेश सिंह कुशवाहा ने बीजेपी के अच्युतानंद को हराया.

2010 में बीजेपी से अच्युतानंद ने लोजपा के रामा किशोर सिंह को हराया.

2005 (फरवरी और अक्टूबर) में लोजपा से रामा किशोर सिंह ने राजद के मुंशीलाल को हराया

2000 जेडीयू से रामाकिशोर सिंह जीते

1995 में जनता दल से मुंशीलाल ने निर्दलीय प्रत्याशी रामा किशोर सिंह को हराया

1990 में एसओपी (एल) से मुनेश्वर प्रसाद सिंह ने जनता दल के रघुपति को हराया

1985 में लोकदल से मुंशीलाल ने कांग्रेस के मिथिलेश्वर प्रसाद को हराया

1980 में जनता पार्टी (सेक्युलर) से मुंशीलाल ने कांग्रेस के राम प्रसाद सिंह को हराया

1977 में जनता पार्टी से मुंशवर प्रसाद सिंह ने कांग्रेस के अखिलेश कुमार राय को हराया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज