• Home
  • »
  • News
  • »
  • bihar
  • »
  • महनार नाबालिग मर्डर केस का खुलासा: मुख्य आरोपी की छात्रा पर पहले से थी बुरी नजर, 5 गिरफ्तार

महनार नाबालिग मर्डर केस का खुलासा: मुख्य आरोपी की छात्रा पर पहले से थी बुरी नजर, 5 गिरफ्तार

महनार थाना क्षेत्र में नाबालिग छात्रा के मर्डर केस का खुलासा वैशाली के एसपी मनीष ने किया.

महनार थाना क्षेत्र में नाबालिग छात्रा के मर्डर केस का खुलासा वैशाली के एसपी मनीष ने किया.

Mahnar Minor girl Murder Case: वैशाली एसपी मनीष ने बताया कि मुख्य आरोपी दशरथ मांझी की मृतक नाबालिग छात्रा पर पहले से ही खराब नजर थी. इसी कारण उसने अपने साथियों के साथ मिलकर सोची-समझी साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

हाजीपुर. बड़ी खबर वैशाली के महनार से है जहां बहुचर्चित नाबालिग छात्रा हत्याकांड (Mahnar Minor girl Murder Case)) का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. इस मामले में एक महिला समेत 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं, पुलिस ने आरोपियों के घर से वह गमछा भी बरामद किया है जिससे नाबालिग छात्रा की गला दबाकर हत्या की गई थी. सबसे बड़ी बात यह सामने उभर कर आई है कि इस पूरे मामले में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं की गई है. वैशाली एसपी मनीष (Vaishali SP Manish) ने बताया कि इस मामले का मुख्य आरोपी दशरथ मांझी (Accused Dashrath Manjhi) ने अपने तीन सहयोगियों के साथ कोचिंग जा रही नाबालिग लड़की को अगवा कर लिया और उसके साथ गलत करने की कोशिश की, लेकिन नाकाम होने पर उसकी हत्या कर दी गई.  छात्रा की हत्या कर उसके शव को पास किसी चंवरर इलाके में पानी में फेंक दिया गया.

वैशाली एसपी ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी दशरथ मांझी, यदु राय, वकील पासवान गौतम कुमार सहनी और सलवा देवी को गिरफ्तार किया गया है. एसपी ने बताया कि पब्लिक के सहयोग से दशरथ मांझी को महनार थाना के अब्दुल्ला चौक से गिरफ्तार किया गया. उसकी गिरफ्तारी के बाद परत दर परत मामले का खुलासा हुआ.

उन्होंने बताया इसका मुख्य आरोपी दशरथ मांझी है, और उसने अपने तीन दोस्तों के साथ इस घटना को अंजाम दिया. जबकि मृतक लड़की के साइकिल छुपाने में सलवा देवी मैं दशरथ मांझी का सहयोग किया था. इस कारण उसे भी गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने बताया कि आरोपियों की निशानदेही पर साइकिल,  स्कूल बैग समेत तमाम चीजों को बरामद कर लिया गया है.

एसपी मनीष ने बताया कि मुख्य आरोपी दशरथ मांझी की मृतक नाबालिग छात्रा पर पहले से ही खराब नजर थी. इसी कारण उसने अपने साथियों के साथ मिलकर सोची-समझी साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया. बता दें कि इस घटना को लेकर सड़कों से लेकर सोशल मीडिया में उबाल था. साथ ही यह मामला राजनीतिक रंग भी लेने लगा था. अब जब  इस घटना का उद्भेदन हो गया है तो वैशाली पुलिस ने राहत की सांस ली है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज