Home /News /bihar /

omg hajipur bihar hospital news new born boy became female with in four days bramk

बिहार के इस अस्पताल में चार दिन में ही मेल से फिमेल बन गया नवजात ! जानें हेरफेर की पूरी कहानी

बिहार के हाजीपुर स्थित सरकारी अस्पताल में गड़बड़झाला पकड़ा गया है

बिहार के हाजीपुर स्थित सरकारी अस्पताल में गड़बड़झाला पकड़ा गया है

Hajipur Hospital New Born Baby Case: बिहार के हाजीपुर स्थित सरकारी अस्पताल में हुए इस गड़बड़झाले के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया. इस घटना के बाद जांच के लिए तीन सदस्यीय डॉक्टरों की टीम बनाई गई है. जो पूरे केस की तफ्तीश कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

हाजीपुर. बिहार में एक सरकारी अस्पताल इन दिनों सुर्खियों में है. अस्पताल के सुर्खियों में रहने की वजह जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे. दरअसल इस सदर अस्पताल ने मेल को फीमेल बनाने के जादू कर दिया और ये जादू यानी कि हेराफेरी का आरोप अस्पताल कर्मियों पर लगा है. आरोप है कि जीवित मेल बच्चे को इलाज के लिए सदर अस्पताल के बच्चा वार्ड में भर्ती कराया गया था लेकिन चार दिनों के इलाज के बाद जब बच्चे की मौत हुई तो वह मेल से फीमेल बन चुका था.

मामला हाजीपुर से जुड़ा है और यह आरोप मृत बच्चे के परिजन लगा रहे हैं. मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएस डॉ. एसके वर्मा ने जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया. बताया गया कि 14 अप्रैल को राजापकड़ थाना क्षेत्र के रहने वाले मुहमम्द यूसुफ अपनी बहू को डिलीवरी के लिए लेकर बिदुपुर जा रहे थे. इसी क्रम में रास्ते में ही बच्चे का जन्म हो गया. जिसके बाद बच्चों को लेकर सभी सदर अस्पताल पहुंचे जहां बच्चे को कमजोर बताकर इलाज के लिए एसएनसीयू में भर्ती कर लिया गया. तीन दिनों तक बच्चे के परिजन लगातार बच्चे से मिलते रहे.

इंट्री करने वाले रजिस्टर से लेकर पर्चे तक पर बच्चे का लिंग मेल लिखा गया लेकिन चौथे दिन सदर अस्पताल के नवजात शिशु गहन चिकित्सा इकाई की ओर से बताया गया कि बच्चे की हालत नाजुक है और इसके लगभग डेढ़ घंटे बाद बच्चे की मौत की सूचना दी लेकिन जब बच्चे का शव दिया गया तो तीन रातों में ही बच्चा मेल से फीमेल हो चुका था. इसको लेकर मृत बच्चे के परिजनों ने हंगामा कर दिया. मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रभारी सिविल सर्जन ने तीन सदस्यीय जांच टीम का गठन कर दिया.

घटना के विषय में मृत बच्चे की दादी कुलसुन खातून ने बताया कि उनके सामने ही गाड़ी में लड़का जन्म लिया था. जिसके मरने की सूचना के बाद जब जानकारी दी गई और बच्चे का शव मांगा गया तो बच्ची का शव दे दिया गया है. डीएस डॉ. एसके वर्मा ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है और मामले की जांच की जा रही है. जिसके लिए तीन डॉक्टरों की टीम का गठन कर दिया गया है.

Tags: Bihar News, Hajipur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर