अपना शहर चुनें

States

तेजस्वी की राह चले तेजप्रताप! अब अपने क्षेत्र में भी चलाएंगे ये अभियान

तेज प्रताप यादव भी अपने विधानसभा क्षेत्र में आरजेडी के लिए सदस्यता अभिायन चलाएंगे.
तेज प्रताप यादव भी अपने विधानसभा क्षेत्र में आरजेडी के लिए सदस्यता अभिायन चलाएंगे.

तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) के सक्रिय होने के साथ ही तेजप्रताप भी राजनीति में अपनी गतिविधियां बढ़ा दी हैं. लालू यादव (Lalu Yadav) के बड़े बेटे ने भी सदस्‍यता अभियान चलाने की घोषणा की है.

  • Share this:
लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) भी अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) की राह पर चल पड़े हैं. वह भी अब अपने विधानसभा  क्षेत्र (Constituency) में सदस्यता अभियान चलाने जाएंगे. तेजप्रताप ने 600 नए सदस्य बनाने के लिए पार्टी से सदस्यता रसीद ली है और इसके लिए खुद 3000 रुपये भी जमा करवाए हैं. बताया जा रहा है कि वह भी अपने निर्वाचन क्षेत्र वैशाली (Vaishali )जिले के महुआ (Mahua) से सदस्यता अभियान का आगाज करेंगे.

गौरतलब है कि बीते 23 अगस्त को राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के छो़टे बेटे और बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपने निर्वाचन क्षेत्र राघोपुर का दौरा किया था. इस दौरान उन्होंने अपने क्षेत्र के लिए सदस्यता अभियान की शुरुआत की थी.

Tejaswi Yadav
तेजस्वी यादव ने अपने निर्वाचन क्षेत्र राघोपुर में सदस्यता अभिया की शुरुआत की है.




50 लाख नए सदस्य जोड़ने का लक्ष्य
तेजस्‍वी ने उस वक्‍त कहा था कि पूरे बिहार में आरजेडी (RJD) का सदस्यता अभियान पहले से चल रहा है और 50 लाख लोगों को पार्टी का सदस्य बनाने का टारगेट रखा गया है. तेजस्वी ने यह भी बताया था कि पर्चा से सदस्य बनाने के साथ ही पार्टी ऑनलाइन सदस्यता अभियान भी चला रही है.

तेजप्रताप भी आए तेजस्वी के साथ
बता दें कि बीते 20 अगस्त को पटना वापसी के बाद तेजस्वी ने 21 अगस्त को पटना स्टेशन पर दूध मंडी ध्वस्त किए जाने के बाद धरने पर बैठे थे. तब माना गया कि एक बार फिर तेजस्वी यादव ने सक्रिय राजनीति में वापसी कर ली है. इस दौरान तेजप्रताप यादव भी तेजस्वी के साथ खड़े हो गए थे और कहा था कि वह (तेजस्‍वी) मेरा अर्जुन है.

tejpratap
तेजप्रताप यादव भी तेजस्वी यादव का साथ देने धरनास्थल पर पहुंचे थे .


लालू परिवार में सबकुछ ठीक नहीं
दरअसल, आरजेडी ने अपना सदस्यता अभिया बीते 9 अगस्त को ही शुरू किया था. उस वक्‍त तेजस्वी और तेजप्रताप यादव ने इस अभियान से दूरी बना ली थी. इसके बाद खबरें आईं कि लालू परिवार में राजनीतिक विरासत को लेकर अंदर ही अंदर काफी खींचतान है. बहरहाल, तेजस्वी यादव के सक्रिय होने के साथ ही तेजप्रताप की सक्रियता से संकेत जरूर उभर रहे हैं कि तेजप्रताप भी खुद को मुख्य धारा की राजनीति से अलग नहीं रखना चाहते.

इनपुट- अमित कुमार सिंह

ये भी पढ़ें- 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज