सहायता राशि नहीं मिलने से नाराज गांववाले कर रहे हैं शौचालय तोड़ने की तैयारी

स्वच्छ भारत मिशन के तहत सरकार एक तरफ खुले में शौच मुक्त जैसी योजनाएं चला रही है. इस योजना को सफल बनाने के लिए जागरूकता अभियान के साथ साथ प्रोत्साहन राशि देने का भी दावा कर रही है लेकिन समस्तीपुर के पूसा प्रखंड के मोहम्मद क्वारी पंचायत में इस योजना के तहत शौचालय बनाने के बाद राशि के लिए टकटकी लगाए बैठे हैं.

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: October 13, 2017, 11:57 AM IST
सहायता राशि नहीं मिलने से नाराज गांववाले कर रहे हैं शौचालय तोड़ने की तैयारी
ईटीवी फोटो
ETV Bihar/Jharkhand
Updated: October 13, 2017, 11:57 AM IST
स्वच्छ भारत मिशन के तहत सरकार एक तरफ खुले में शौच मुक्त जैसी योजनाएं चला रही है. इस योजना को सफल बनाने के लिए जागरूकता अभियान के साथ साथ प्रोत्साहन राशि देने का भी दावा कर रही है लेकिन समस्तीपुर के पूसा प्रखंड के मोहम्मद क्वारी पंचायत में इस योजना के तहत शौचालय बनाने के बाद राशि के लिए टकटकी लगाए बैठे हैं.

महीनों बाद भी अब तक प्रोत्साहन राशि नहीं मिलने से लोगों में खासा आक्रोश है. प्रोत्साहन राशि का अब तक भुगतान नहीं मिलने से नाराज लोग सड़क पर उतर प्रदर्शन कर रहे हैं, वही अब शौचालय तोड़ने की भी बात कह रहे है.

ग्रामीण अनिल दास ने कहा कि हमलोगों को शौचालय बनाने के एवज में 12 हजार रुपये एक महीने के भीतर देने का वायदा किया गया था. शौचालय निर्माण नहीं करने पर राशन और किरासन बंद करने की धमकी दी गई थी. सूद पर पैसा लेकर किसी तरह शौचालय का निर्माण कराया लेकिन आज दर दर की ठोकरें खाने को मजूबर हैं. अधिकारी घूस मांग रहे हैं.

वार्ड पार्षद रविशंकर कुमार का कहना है कि मुख्यमंत्री के पूसा दौरा के दौरान लोगों से शौचालय निर्माण की अपील की गई थी जिसके बाद लोग प्रभावित होकर किसी तरह कर्ज लेकर शौचालय का निर्माण कराया लेकिन अब तक पैसा नहीं मिला है.

वही, इस मामले पर प्रखंड विकास पदाधिकारी लक्ष्मण कुमार का कहना है कि आगामी 15 अक्टूबर तक सभी लाभुकों को प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करा दी जाएगी.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर