Assembly Banner 2021

भारत में कोरोना फैलाने की साजिश रच रहा 'जालिम', SSB ने प. चंपारण के डीएम-एसपी को भेजा अलर्ट

भारत में कोरोना फैलाने की साजिश का खुलासा.

भारत में कोरोना फैलाने की साजिश का खुलासा.

तीन अप्रैल को एसएसबी की ओर से जिलाधिकारी पश्चिम चंपारण और बेतिया के एसपी के नाम से एक गोपनीय पत्र लिखा गया था. इसके तहत नेपाल के एक शख्स जालिम मुखिया द्वारा भारत में कोरोना वायरस फैलाने की साजिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है.

  • Share this:
पटना. सशस्त्र सीमा बल (SSB) के एक गोपनीय पत्र के आलोक में पश्चिम चंपारण के जिलाधिकारी (DM of West Champaran) ने एसपी बेतिया/बगहा को भारत-नेपाल सीमा पर अतिरिक्त सावधानी बरतने को कहा है. 7 अप्रैल को लिखे पत्र में डीएम कुंदन कुमार ने एसपी को लिखा है कि नेपाल के पारसा जिले के सेरवा थाने के जानकी टोला पोस्ट ऑफिस के तहत जगनाथपुर गांव का रहने वाला जालिम मुखिया भारत में कोरोना (COVID-19) महामारी फैलाने की योजना बना रहा है. वह नेपाल-भारत से हथियार के अवैध सप्लाई और जाली नोटों ( FICN) की तस्करी में भी शामिल है.

डीएम ने एसपी को किया आगाह
डीएम ने अपने पत्र में आगाह करते हुए लिखा है कि 40 से 50 समुदाय विशेष के भारतीय नागरिकों के भारत आने की सूचना है. अत: अनुरोध है कि भारत-नेपाल सीमा पर यथेष्ट सतर्कता बरती जाए तथा किसी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि पर कड़ाई से निगरानी की जाए.

बता दें कि इससे पहले 3 अप्रैल को एसएसबी की ओर से जिलाधिकारी पश्चिम चंपारण और बेतिया के एसपी के नाम से एक गोपनीय पत्र लिखा गया था. इसके तहत नेपाल के एक इसी शख्स जालिम मुखिया द्वारा भारत में कोरोना वायरस फैलाने की साजिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया है.
डीएम द्वारा एसपी को लिखे गए पत्र की कॉपी




SSB ने लिखा बेतिया डीएम-एसपी को पत्र
एसएसबी ने जो पत्र पश्चिम चंपारण के डीएम और एसपी को लिखा है उसके अनुसार  नेपाल के पारसा जिले के सेरवा थाने के जगनाथपुर गांव का रहने वाला जालिम मुखिया भारत में कोरोना महामारी फैलाने की योजना बना रहा है.

जालिम मुखिया को लेकर पत्र में सूचना दी गई कि समुदाय विशेष के वैसे 200 लोग, जो बाहर के मुस्लिम देशों में काम करते रहे हैं और पांच-छह पाकिस्तानी नागरिक काठमांडू के रास्ते नेपाल आ चुके हैं और एक मस्जिद में टिके हुए हैं. 40 से 50 संदिग्ध भारतीय नागरिक (समुदाय विशेष के) आने वाले दिनों में पहुंच सकते हैं.

SSB ने पश्चिम चम्पारण के डीएम और एसपी को किया था अलर्ट.


जानकारी के अनुसार ये सभी लोग अपने शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने के लिए पारासिटामोल टैबलेट का इस्तेमाल कर रहे हैं और संभवत: सभी कोरोना पॉजिटिव हैं. इसको देखते हुए संबंधित एजेंसियों को अलर्ट पर रखा जाए.  जिलाधिकारी ने इसी पत्र के आलोक में एसपी को पत्र लिखकर अलर्ट किया था.

इस बीच SSB के लेटर पर सीमा से लगी पुलिस अलर्ट हो गी है. सीतामढ़ी एसपी ने सभी एसएचओ को भी अलर्ट किया है और नेपाल से सटे सभी रास्तों को कटीले तार से बंद करने को लेकर आदेश जारी कर दिया है. वहीं सभी पोस्टों पर CCTV लगाने के साथ ही 24 घंटे लगातार पैट्रोलिंग करने का भी आदेश दिया गया है.

वहीं, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी ने कहा कि नेपाल के रास्ते जो बिहार की फिराक में हैं उन्हें किसी कीमत पर हम नहीं आने देंगे. हम सतर्क हैं और सीमाएं सील कर दी गई हैं. हर बिंदु की जांच हो रही है और प्रशासन अलर्ट है. गृह मंत्रालय को भी जानकारी दे दी गई है.

(इनपुट- मुन्ना राज/अमित कुमार )

ये भी पढ़ें-
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज