Chanpatia Seat Live Update: बीजेपी के उमाकांत सिंह ने कांग्रेस के अभिषेक रंजन को 13469 वोटों से हराया

चनपटिया सीट से बीजेपी के उमाकांत सिंह चुनाव जीत गए हैं.
चनपटिया सीट से बीजेपी के उमाकांत सिंह चुनाव जीत गए हैं.

Pashchim Champaran Chanpatia Seat Live Update: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Election Result 2020) के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. पश्चिमी चंपारण जिले की चनपटिया विधानसभा सीट (Chanpatia Seat Live Update) से बीजेपी के उमाकांत सिंह चुनाव जीत गए हैं. उन्होंने कांग्रेस के अभिषेक रंजन को 13469 वोटों से मात दी.

  • Share this:
पश्चिमी चंपारण. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Election Result 2020) के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. पश्चिमी चंपारण जिले की चनपटिया विधानसभा सीट (Chanpatia Seat Live Update) से बीजेपी के उमाकांत सिंह चुनाव जीत गए हैं. उन्होंने कांग्रेस के अभिषेक रंजन को 13469 वोटों से मात दी. बिहार चुनाव के नतीजों के पल-पल का LIVE अपडेट देखने के लिए यहां क्लिक करें...

उत्तर प्रदेश और नेपाल सीमा से सटे बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले की चनपटिया विधानसभा सीट (Chanpatia Assembly Seat) पर इस बार होने वाला चुनाव रोचक होने के संकेत हैं. सियासी रणनीतिकार इसकी वजह 2015 के विधानसभा चुनाव के नतीजों को मानते हैं. दरअसल, 2000 से लेकर अब तक हुए पांच चुनावों में हर बार बीजेपी के उम्मीदवार चनपटिया से जीत हासिल करते रहे हैं. लेकिन 2015 में हुए चुनाव में पहली बार कांटे की टक्कर देखने को मिली थी. उस समय बीजेपी (BJP) के प्रत्याशी महज 464 वोटों के अंतर से जदयू (JDU) के खिलाफ जीत हासिल कर पाए थे. 2020 के चुनाव (Bihar Assembly Election) में जबकि दोनों पार्टियां एक साथ मैदान में उतरने वाली हैं, तो इस गठबंधन को टक्कर देने के लिए विपक्ष क्या रणनीति अपनाएगा, यह महत्वपूर्ण है.

2000 से कायम है दबदबा
कोरोनाकाल में हो रहे चुनाव की सरगर्मी के साथ ही चनपटिया विधानसभा क्षेत्र में भी सियासी हलचल तेज हो चुकी है. वर्ष 2000 से लेकर अब तक यहां से पिछले दो दशकों में एक भी चुनाव न हारने वाली बीजेपी, इस बार के चुनाव में भी जीत का सिलसिला बरकरार रखना चाहती है. वहीं, विपक्षी महागठबंधन के दल बीजेपी के गढ़ में सेंध लगाने की कोशिश में जुटे हैं. महागठबंधन की ओर से राजद इस सीट पर बीजेपी को चुनौती देने की तैयारी कर रहा है. हालांकि अभी तक किसी भी दल की तरफ से उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की गई है, लेकिन चुनाव से पहले की रणनीति तैयार करने में नेता और कार्यकर्ता दिन-रात एक किए हैं.
हर चुनाव में बदला बीजेपी का चेहरा


चनपटिया विधानसभा क्षेत्र में अब तक के हुए चुनावों पर गौर करें तो यह साफ हो जाता है कि बीजेपी हर चुनाव में यहां के उम्मीदवार का चेहरा बदलती रही है. सिर्फ 2005 में एक ही साल के भीतर हुए विधानसभा के दो चुनावों को छोड़ दें, तो हर बार बीजेपी की तरफ से नया उम्मीदवार उतारा जाता है, जिसे यहां की जनता अपना विधायक चुनती रही है. वर्ष 2000 में बीजेपी ने चनपटिया से कृष्ण कुमार मिश्र को उतारा तो 2005 के चुनाव में सतीश चंद्र दुबे उम्मीदवार बने. इसके बाद वर्ष 2010 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने फिर अपना उम्मीदवार बदला और चंद्रमोहन राय पर दांव खेला. पांच साल पहले 2015 के चुनाव में भी बीजेपी ने नए प्रत्याशी को मौका दिया. तब प्रकाश राय बीजेपी की तरफ चुनाव मैदान में थे, जिन्होंने जेडीयू के एनएन शाही को 464 वोटों से मात दी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज