Home /News /bihar /

bandra barauni awadh express stopped in forest area for 3 hours due to herd of monkeys train operation halted at gorakhpur narkatiaganj rail route nodmk3

बंदरों की कारस्‍तानी के चलते जंगल में 2 घंटे तक खड़ी रही एक्‍सप्रेस ट्रेन, गोरखपुर-नर‍कटियागंज रूट पर परिचालन ठप

OMG News: वाल्मीकि नगर के स्टेशन मास्टर पीएन पांडे ने बताया कि लगभग 1 घंटा का ब्लॉक लेकर इलेक्ट्रिक विभाग द्वारा इंसुलेटर और पेंडुलम का मरम्मती की गई. इसके बाद ट्रेनों का परिचालन को शुरू किया गया. बता दें कि जंगली जानवरों के कारण अक्‍सर ही ट्रेनों का परिचालन बाधित होता रहा है. एक बार फिर से बगहा में जंगली इलाकों में जंगली जानवरों की वजह से ट्रेन सेवा प्रभावित हुई है.

अधिक पढ़ें ...

मुन्‍ना राज

बगहा (पश्चिम चंपारण). बिहार से अचरज में डालने वाली एक खबर सामने आई है. बंदरों की वजह से एक्‍सप्रेस ट्रेन तकरीबन 2 घंटे तक जंगल के बीच खड़ी रही. बांद्रा (मुंबई) से बरौनी जा रही अवध एक्‍सप्रेस ट्रेन बंदरों की वजह से रुकी रही. दरअसल, बंदरों का झुंड रेलवे के हाईटेंशन तार पर उछल-कूद करने लगा. इस वजह से तार टूट गया. हाईटेंशन तार के टूटते ही ट्रेन का परिचालन ठप पड़ गया. सूचना मिलने पर रेलवे के अधिकारी और पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे. काफी मशक्‍कत के बाद जाकर हाईटेंशन तार को दुरुस्‍त किया जा सका. इसके बाद तकरीबन 2 घंटे के उपरांत अवध एक्‍सप्रेस प्रस्‍थान कर सकी. हाईटेंशन तार टूटने से गोरखपुर-नरकटियागंज रेल रूट पर ट्रेनों का आवागमन ठप हो गया था.

जानकारी के अनुसार, गोरखपुर-नरकटियागंज रेलखंड पर हाईटेंशन तार में खराबी आने के कारण ट्रेनों का आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया. पनियहवा और वाल्मीकि नगर रेलवे स्टेशन के बीच बंदरों के उत्पात के चलते हाईटेंशन तार क्षतिग्रस्त हो गया. इसके कारण बांद्रा से बरौनी जा रही अवध एक्सप्रेस ट्रेन मौके पर ही खड़ी रही. इसके साथ ही इस रेलखंड पर चलने वाली सप्तक्रांति समेत कई गाड़ियों को विभिन्न स्टेशनों पर रोकना पड़ा. तकरीबन 2 घंटे तक अवध एक्सप्रेस ट्रन जंगल के बीच में ही रुकी रही, जिसके कारण यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. बताया जाता है कि बंदरों का झुंड हाईटेंशन तार पर कूद रहे थे, जिसके कारण अचानक से तार टूट गया था.

बिहार के गांवों की बदलेगी सूरत, केंद्र ने बिहार को दिए ₹1152 करोड़; जानें पूरी प्‍लानिंग 

परेशान रहे रेलयात्री
गोरखपुर-नरकटियागंज रेलखंड के पनियहवा-वाल्मीकि नगर रेलवे स्टेशन के बीच पोल संख्या 319/1 के समीप हाईटेंशन तार में बंदर के सटने से तार में लगा इंसुलेटर टूट कर रेलवे ट्रैक पर गिर गया. इससे ट्रेनों का आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया. चालक और गार्ड ने इसकी सूचना वाल्मीकि नगर स्टेशन एवं पनियहवा स्टेशन मास्टर और समस्तीपुर कंट्रोल रूम को दिया. हाईटेंशन तार के क्षतिग्रस्त होने के कारण बांद्रा से बरौनी जा रही अवध एक्सप्रेस ट्रेन वीटीआर की जंगल के बीच रुकी रही. इस रेलखंड पर चलने वाली सप्तक्रांति एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोकना पड़ा.

Paschim Champaran News

हाईटेंशन तार टूटने की सूचना पर रेलवे और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

क्‍या कहते हैं स्‍टेशन मास्‍टर?
वाल्मीकि नगर के स्टेशन मास्टर पीएन पांडे ने बताया कि लगभग 1 घंटा का ब्लॉक लेकर इलेक्ट्रिक विभाग द्वारा इसुलेटर और पेंडुलम का मरम्मती की गई. इसके बाद ट्रेनों का परिचालन को शुरू किया गया. बता दें कि जंगल के इलाकों में अक्‍सर जंगली जानवरों के कारण ट्रेनों का परिचालन बाधित होता रहा है. एक बार फिर से बगहा में जंगली इलाकों में जंगली जानवरों की वजह से ट्रेन सेवा प्रभावित हुई है.

Tags: Bihar News, Indian Railway news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर