लाइव टीवी

बाढ़ से बेतिया में फीका नजर आ रहा है छठ पूजा का उत्साह

ETV Bihar/Jharkhand
Updated: October 24, 2017, 10:11 AM IST

पूरे देश में सौहार्दपूर्ण वातावरण में लोकआस्था का महापर्व मनाया जा रहा है. हर तरफ लोग छठ पूजा की तैयारी मे जुटे हुए हैं.लेकिन बेतिया मे लोकआस्था के महापर्व का उत्साह थोड़ा फीका नजर आ रहा है. दो महीने पहले आई प्रलयंकारी बाढ़ का असर इस लोक आस्था के महापर्व पर देखने को मिल रहा है.

  • Share this:
पूरे देश में सौहार्दपूर्ण वातावरण में लोकआस्था का महापर्व मनाया जा रहा है. हर तरफ लोग छठ पूजा की तैयारी मे जुटे हुए हैं.लेकिन बेतिया मे लोकआस्था के महापर्व का उत्साह थोड़ा फीका नजर आ रहा है. दो महीने पहले आई प्रलयंकारी बाढ़ का असर इस लोक आस्था के महापर्व पर देखने को मिल रहा है.

चार दिवसीय इस लोक आस्था के महापर्व में नये कपड़ो के साथ-साथ नई फसल की भी प्रधानता रहती है लेकिन इस साल जिले में आई बाढ़ का सबसे अधिक असर फसल पर पड़ा है.  इसके बावजूद पर्व को उल्लासपूर्ण वातावरण में मनाने के लिए सभी सम्प्रदाय के लोग बढ़ चढ़ कर भाग ले रहे हैं.

बाढ़ के कारण जिले के 18 मे से 16 प्रखंड प्रभावित हुए थे जिसके कारण किसानो का फसल पुरी तरह बर्बाद हो गई थी. आलम यह है कि इस बार ना तो धान की फसल हुई है और ना ही गन्ने की. जिसके कारण इस जिले के लोग भी गन्ना खरीदने पर मजबुर हैं जिसे गन्ना का कटोरा कहा जाता है.

ऐसा माना जाता है कि गन्ना प.चम्पारण के किसानो की जीवन रेखा है लेकिन इस बार बाढ़ की विभिषिका के कारण छठ जैसे पर्व मे लोगो को बढ़ी कीमत पर गन्ना खरीदना पड़ रहा है.अब छठ जैसे महान पर्व को मनाने के लिए इन फसलो का कहां से लाए इसकी चिंता लोगो को सता रही है.

किसी तरह गांवो में कुछ खेत में गन्ने की फसल बची है जिससे मांग पूरी की जा रही है. मंहगाई के कारण छठव्रती बेबस नजर आ रहे हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी चंपारण से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2017, 10:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर